download scanned papers here - Paper 1 Paper II


UPSC PRELIMS 2017 PAPER I -- ANSWER KEYS


विहंगम दृष्टि
  1. 2017, एक बड़ी चुनौती: 2017 की प्रारंभिक परीक्षा सभी अभ्यर्थियों के लिए एक बड़ी चुनौती साबित हुई, चाहे वे नये अथवा अनुभवी रहे हों – जिन्होंने अनिश्चितता के बजाय, पिछले वर्ष (2016) के आधार पर एक निर्धारित पैटर्न की उम्मीद रखी थी - याद रखें कि "प्रमुख प्रतियोगी परीक्षाओं में अनिश्चितता मुख्य घटक है"। 2017 के प्रश्ननपत्र (दोनों सेट I और II) न केवल कठिन थे, वे जटिल भी थे, कुछ सवाल अस्पष्ट थे और उन्हेंर हल करने के लिए कई विशिष्ट तथ्यों की जानकारी आवश्यक थी। यह कटऑफ को सीधे प्रभावित करेगा। सबक: दीर्घकालिक अभ्याअस, विषय की गहराई, अधिक से अधिक हल न करना, विवेक, अभ्यास।
  2. प्रमुख परिवर्तनों का सारांश:
    1. विषयवार संतुलन में बदलाव – अंतरराष्ट्रीय समसामयिक विषय आधे कम हुए, एस-एंड-टी आधे से कम हुए, राजनीति संबंधित प्रश्नत 3 गुना ज्यादा बढ़े, भारतीय समसामयिक विषय संबंधित प्रश्न तीन गुना बढ़े
    2. प्रश्नों का स्तर बेहद कठिन हो गया
    3. लगभग कोई सीधा सवाल नहीं
    4. सूक्ष्म स्तर के प्रश्न पूछे
    5. निकटस्थ अर्थ वाले विकल्प रखे गए
    6. "अधिक-से-अधिक" करने की प्रवृति पर रोक, पूरी तरह से
    7. लंबी अवधि से की गई तैयारी काम आई – सूचियां रटने से सीमीत लाभ
  3. कोई सीधा सवाल नहीं - लगभग कोई नहीं! 2016 (और कुछ हद तक 2015) में समसामयिक विषय संबंधित प्रश्न अधिक थे, और कई प्रश्नों को केवल विकल्पों के उन्मूलन से ही सुलझाया जा सकता था, और चूंकि कई प्रश्नों को सीधे हल किया जा सकता था, इस कारण कई अभ्यर्थी मान कर चले कि एक विशिष्ट रणनीति काम आएगी ही। पहले कुछ मिनटों ने उनको चौंका दिया होगा जिन्होंने "कुछ विशिष्ट रणनीति अपनाने की सोची होगी"। अगर उन्होंने खुले दिमाग से हल करने का सोचा होता तो शायद वे शांत रह सकते थे। सबक: यह केवल एक सापेक्ष प्रदर्शन परीक्षा है, “एबसोल्यूट’’ नहीं।
  4. विषयों का संतुलन बदल गया: इस प्रश्न पत्र में सर्वाधिक राजनीति पर (22 प्रश्न) और शासकीय योजनाओं (12 प्रश्न - पिछले साल 13) के प्रश्न थे। कुछ विषयों ने 2016 की परिपाटी को कायम रखा: पर्यावरण और पारिस्थितिकी, आधुनिक इतिहास, भारतीय अर्थव्यवस्था, भूगोल (6 की तुलना में 9)। यह उल्लेखनीय है कि तथ्यों को रटना और समसामयिक विषय कुछ खास काम के नहीं है, क्योंकि इन प्रश्नों से अंतर्निहित विषयों पर छात्र की समझ का परीक्षण किया जाना था। सबक: कुछ अपेक्षा न करें।
  5. सरल प्रश्न विलोप हो गए: 2016 में, ओ.बी.ओ.आर, टीपीपी, भारतीय नौसेना, नीम-लेपित यूरिया, ईओडीबी, नदियां, आईएमएफ, उदय आदि पर सीधे सवाल किए गए (और कटऑफ अधिक रखा गया)। इस साल, चिंतित छात्रों ने ऐसे “आसान प्रश्नों ” को खोजने में सर खपाया, जो कि कम ही थे।
  6. सरकारी कर्मचारियों को योजनाओं को सूक्ष्मता से जानना चाहिए: ऐसा लगता है यूपीएससी स्पष्ट था कि अगर आप एक दिन शासकीय सेवक के तौर पर काम करना चाहते हैं, तो आपको सभी योजनाओं का विस्तृत ज्ञान होना आवश्यक था। सवाल कठिन थे, और सूक्ष्म स्तर के प्रश्न पूछे गये।
  7. वैश्विक मामलों, अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों और संधियों पर प्रश्न विशिष्ट थे, और केवल सामान्य तौर से पढ़ने पर इसका कोई जवाब नहीं दिया जा सकता था। 9 प्रश्नों के साथ भारत और विश्व भूगोल महत्वपूर्ण विषय थे। इन विषयों पर कुछ प्रश्न बहुत विशिष्ट नहीं थे, लेकिन अवधारणाओं के समुचित ज्ञान पर केंद्रित थे।
  8. भारत के स्वतंत्रता संघर्ष को इस साल (7/7) भी हमेशा की तरह महत्व दिया गया था। हालांकि सवाल सरल थे, लेकिन उनमें से कुछ के विकल्प काफी करीबी थे, जिनसे प्रश्न थोडे पेचीदा बने, जबकि अन्य सीधे और सरल थे।
  9. हमारा सहयोग: पीटी आईएएस अकादमी में, हमने यथासंभव सभी विषयों को शामिल करने का प्रयास किया है। छात्रों को अच्छे परिणामों की शुभकामना!
  10. अस्पष्ट जवाब: कम से कम 4 से 5 प्रश्न थे जिनका उत्तर अस्पष्ट था (तितली / मतदान / सिंधु घाटी / जिप्सम आदि)। यह यूपीएससी सिविल सेवा प्रवेश परीक्षा में नहीं होना चाहिए। हो सकता है कि हर किसी को कृपा-अंक का फायदा होगा।
  11. इस स्तर पर, हम छात्रों को सुझाव देते हैं कि प्रारंभिक परीक्षा के लिए "कट-ऑफ" के बारे में किसी भी अटकलें में रहने से बचें। एक अनुमान - सामान्य श्रेणी -  95 से 102 अंक, ओबीसी - लगभग इतने की अंक और अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति -  85 से 92 अंक। यदि आप इन के करीब कहीं भी हैं, तो मुख्य तैयारी के लिए तैयारी करें। परेशान न हों, आशा मत खोईये, अप्रत्याशित बातें हो सकती हैं। शुभकामनाएं!

विषयवार वर्गीकरण



विस्तृत प्रश्नवार समाधान (Set B)

1. 1927 की बटलर कमेटी का उद्देश्य था

  1. केन्द्रीय एवं प्रांतीय सरकारों की अधिकारिता निश्चित करना
  2. भारत के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट की शक्तियां निश्चित करना
  3. राष्ट्रवादी प्रेस पर सेंसर-व्यवस्था अधिरोपित करना
  4. भारत सरकार एवं देशी रियासतों के बीच संबंध सुधारना

उत्तर (डी) ‘‘आधुनिक भारतीय इतिहास” और ‘‘भारत का स्वतंत्रता आंदोलन‘‘ से एक प्रश्न। सर्वोपरि शक्ति और रियासती राज्यों के राजाओं के बीच के संबंधों की जांच और उसमें स्पष्टता के लिए भारतीय राज्य समिति द्वारा सर हार्कोर्ट बटलर (जिसे ‘‘बटलर समिति‘‘ कहा जाता है) की अध्यक्षता में एक समिति 1927 ईस्वी में गठित की गई। समिति ने 16 राज्यों की यात्रा की और सन् 1929 में अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। यह सिफारिश की गई कि (ए) राज्य के साथ सर्वोच्च शक्ति का संबंध केवल एक संविदात्मक संबंध नहीं था, बल्कि परिस्थितियों और नीति के अनुसार तथा इतिहास और सिद्धांत के मिश्रण पर आधारित एक क्रियाशील और प्रगतिशील संबंध, था, (बी) ब्रिटिश सर्वोपरिता रियासतों को संरक्षित करती है, (सी) राज्य को अपने स्वयं के समझौते के बिना, भारतीय विधायिका के लिए उत्तरदायी ब्रिटिश भारत की नई सरकार के साथ संबंध स्थापित करने के लिए, स्थानांतरित नहीं किया जाना चाहिए। अतः सही उत्तर है (डी)।


2. कभी-कभी समाचारों में दिखाई पड़ने वाले ‘घरेलू अंश आवश्यकता (डोमेस्टिक कन्टेंट रिक्वायरमेंट)’ पद का संबंध किससे है?

  1. हमारे देश में सौर शक्ति उत्पादन का विकास करने से
  2. हमारे देश में विदेशी टी.वी. चैनलों को अनुज्ञप्ति प्रदान करने से
  3. हमारे देश के खाद्य उत्पादों को अन्य देशों को निर्यात करने से
  4. विदेशी शिक्षा संस्थाओं को हमारे देश में अपने परिसर स्थापित करने की अनुमति देने से

उत्तर (ए) ‘समसामयिक विषयों’’ से संबंधित एक प्रश्न। यह स्पष्ट है कि ‘‘घरेलू सामग्री की आवश्यकता‘‘ का नियम, भारत में विदेशियों द्वारा निर्मित उत्पादों (या भारतीयों द्वारा अन्य किसी देश में) पर लागू होना चाहिए। विकल्प (सी) नहीं हो सकता, क्योंकि यह अन्य देशों को निर्यात करने से संबंधित है, और विकल्प (डी) बेतुका है। विकल्प (बी) ‘‘विषय वस्तु या सामग्री’’ के कारण दिलचस्प है! लेकिन सही उत्तर विकल्प है (ए) जहां उद्देश्य सौर ऊर्जा उत्पादन के उपकरणों के घटकों के स्थानीय निर्माण को बढ़ावा देना है जिसमें सेल और मॉड्यूल शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, 2016 में विश्व व्यापार संगठन के अपीलीय निकाय ने भारत के सौर मिशन में घरेलू सामग्री की आवश्यकता (डीसीआर) को अवैध घोषित किया था। इसलिए उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक http://www.mnre.gov.in/solar-mission/jnnsm/introduction-2/


3. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. परमाणु सुरक्षा शिखर-सम्मेलन, संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में आवधिक रूप से किए जाते हैं।
  2. विखंडनीय सामग्रियों पर अंतरराष्ट्रीय पैनल अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा अभिकरण का एक अंग है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) ‘‘वैश्विक समसामयिक विषय’’ से एक प्रश्न। 2009 में, अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने प्राग में भाषण दिया जिसमें उन्होंने परमाणु आतंकवाद को अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा माना। अपने शुरूआति दौर में, ओबामा ने वाशिंगटन डीसी में 2010 में प्रथम परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन (एनएसएस) की मेजबानी की थी (इसलिए वक्तव्य 1 गलत है, इसलिए (ए) और (सी) गलत हैं और या तो (बी) या (डी) हमारा उत्तर होगा)। 2006 में स्थापित विखंडनीय (फिसाईल) सामग्री पर अंतर्राष्ट्रीय पैनल (आईपीएफएम), स्वतंत्र परमाणु विशेषज्ञों का एक समूह है और आईएईए के तहत नहीं है। अतः (बी) भी गलत है। इसलिए उत्तर है (डी)। यह एक अनूठा प्रश्न था, जिसके लिए अंतरराष्ट्रीय मामलों के विशिष्ट ज्ञान की आवश्यकता थी।
(संदर्भ लिंक http://www.nss2016.org/ और https://en.wikipedia.org/wiki/International_Panel_on_Fissile_Materials )


4. निम्नलिखित में से कौन राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (NPS) में सम्मिलित हो सकता है?

  1. केवल निवासी भारतीय नागरिक
  2. केवल 21 से 55 तक की आयु के व्यक्ति
  3. राज्य सरकारों के सभी कर्मचारी, जो संबंधित राज्य सरकारों द्वारा अधिसूचना किए जाने की तारीख के पश्चात सेवा में आए हैं
  4. सशस्त्र बालों समेत केंद्र सरकार के सभी कर्मचारी, जो 1 अप्रैल, 2004 को या उसके बाद सेवाओं में आये हैं

उत्तर (सी) ‘‘शासकीय योजनाओं‘‘ से संबंधित एक प्रश्न। समस्त विवरण इस आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है- https://india.gov.in/spotlight/national-pension-system-retirement-plan-all#nps3 प्रारंभ में, एनपीएस को शासन में नई भर्ती (सशस्त्र बलों को छोड़कर) के लिए लागू किया गया था। 1 मई 2009 से, असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों सहित देश के सभी नागरिकों के लिए एनपीएस को स्वैच्छिक आधार पर लागू किया गया था। विकल्प (ए) और (बी) रद्द हो गए हैं, चूंकि शर्तों में ‘‘18 से 60 वर्ष की उम्र के बीच भारत के सभी नागरिकों‘‘ का उल्लेख किया गया है। इसका तात्पर्य है कि अनिवासी भारतीय भी आवेदन कर सकते हैं! एनपीएस, 1 जनवरी 2004 को या उसके बाद सरकारी सेवा में शामिल होने वाली केन्द्रीय सरकार सेवा (सशस्त्र बलों को छोड़कर) और केंद्रीय स्वायत्त निकायों के सभी नए कर्मचारियों पर लागू होती है। इसलिए (डी) भी रद्द हो गया है। अतः उत्तर है (सी)। यह एक बहुत कठिन प्रश्न था, क्योंकि सूक्ष्म विवरणों के संबंध में पूछा गया था।


5. तीस्ता नदी के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. तीस्ता नदी उद्गम वही है जो ब्रहापुत्र का है लेकिन यह सिक्किम से होकर बहती है।
  2. रंगीत नदी की उत्पत्ति सिक्किम में होती है और यह तीस्ता नदी की एक सहायक नदी है।
  3. तीस्ता नदी, भारत एवं बांग्लादेश की सीमा पर बंगाल की खाड़ी में जा मिलती है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1 और 3
  2. केवल 2
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (बी) ‘‘भूगोल‘‘ और ‘‘समसामयिक विषयों’’ से एक समायोजित प्रश्न! हालांकि तीस्ता पर प्रश्न तो आना ही था (भारत-बांग्लादेश जल साझाकरण विवाद और प्रधान मंत्री शेख हसीना की भारत यात्रा),  लेकिन यह बहुत मुश्किल सवाल था क्योंकि सूक्ष्म विवरणों के बारे में पूछा गया था। ब्रह्मपुत्र नदी का उद्भव तिब्बत के बुरांग काउंटी में हिमालय स्थित आंग्सी हिमखण्ड से हुआ है, जबकि तीस्ता का उद्भव पहुनरी (या तीस्ता कांगसे) हिमखण्ड से हुआ है। इसलिए वाक्य 1 गलत है। बारहमासी नदी रंगीत का उद्भव, पश्चिम सिक्किम जिले में हिमालय पर्वत से होता है, जो सिक्किम और दार्जिलिंग जिले (एक ज्वलंत समसामयिक मुद्दा) को बांटती हैं, अतः वाक्य 2 सही है। तीस्ता एक 309 किमी लंबी नदी है और भारत और बांग्लादेश की सीमा पर प्रवाहित होती है, लेकिन सीमा पर बंगाल की खाड़ी में इसका विलय नहीं होता है, अतः वाक्य (3) गलत है। इसलिए उत्तर है (बी)। हमने नदियों, और तीस्ता मुद्दे पर उपयोगी विवरण यहां दिए हैं - https://www.pteducation.com/RiversofIndiaandWorld.aspx तथा http://saar.bodhibooster.com/2017/04/India-Bangladesh-relations-Teesta-river-Farakka-barrage-Sheikh-Hasina-Awami-League-1971-war.html


6. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. उष्णकटिबंधीय प्रदेशों में, ज़ीका वाइरस रोग उसी मच्छर द्वारा संचरित होता है जिससे डेंगू संचरित होता है।
  2. ज़ीका वाइरस रोग का लैंगिक संचरण होना संभव है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (सी) ‘‘समसामयिक विषयों’’ और ‘‘स्वास्थ्य एवं जीवविज्ञान‘‘ से एक संयुक्त प्रश्न। ज़ीका बुखार आम तौर पर एडीस मच्छरों के काटने से फैलता है, जो डेंगू वायरस भी फैलाता है। इसलिए, वाक्यांश 1 सही है। ज़ीका वायरस संक्रमित पुरुषों से उनके भागीदारों के बीच यौन प्रसार से भी फैल सकता है। इसलिए वाक्यांश 2 भी सही है। अतः सही उत्तर है (सी)। संदर्भ लिंक - https://www.cdc.gov/zika/prevention/sexual-transmission-prevention.html


7. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. मोटर वाहनों के टायरों और ट्यूबों के लिए भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) का मानक चिन्ह अनिवार्य है।
  2. एगमार्क, खाद्य एवं कृषि संगठन (FAO) द्वारा जारी एक गुणता प्रमाणन चिन्ह है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (ए) ‘समसामयिक विषयों‘‘ और ‘‘नामावली‘‘ से एक संयुक्त प्रश्न। खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) एक अंर्तराष्ट्रीय संगठन है, लेकिन एग्मार्क भारतीय है, इसलिए वाक्यांश 2 स्पष्ट रूप से गलत है। एग्मार्क प्रमाणन योजना का विवरण: कृषि, सहयोग और किसान कल्याण मंत्रालय के अधीन कृषि, सहयोग और किसान कल्याण विभाग के अंतर्गत विपणन एवं निरीक्षण निदेशालय (डीएमआई), कृषि उत्पाद (ग्रेडिंग और अंकन) अधिनियम, 1937 के प्रावधानों को लागू कर रहा है। वाक्यांश 1 सही है - संबंधित आईएस 13098 मोटर वाहनों - वायुचलित टायर के लिए ट्यूब्स और आईएस 15627 मोटर वाहन - दो और तीन-पहिया मोटर वाहनों के लिए वायुचलित टायर्स। अतः सही उत्तर है (ए)। संदर्भ लिंक - https://en.wikipedia.org/wiki/Agmark और http://www.bis.org.in/cert/ProdUnManCert.asp


8. ‘‘राष्ट्रीय कृषि बाज़ार (नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट)’’ स्कीम को क्रियान्वित करने का/के क्या लाभ है/हैं?

  1. यह कृषि वस्तुओं के लिए सर्व-भारतीय इलेक्ट्रॉनिक व्यापार पोर्टल है।
  2. यह कृशकों के लिए राष्ट्रव्यापी बाज़ार सुलभ कराता है जिसमें उनके उत्पाद की गुणता के अनुरूप कीमत मिलती है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (सी) ‘‘कृषि’’ और ‘‘शासकीय योजनाओं‘‘ से एक प्रश्न। राष्ट्रीय कृषि बाजार (एनएएम या ईएनएएम) का गठन, मोदी सरक से एक प्रश्न। राष्ट्रीय कृषि बाजार (एनएएम या ईएनएएम) का गठन, मोदी सरकार द्वारा भारतीय किसानों की एक बड़ी समस्या - ‘उत्पादन का सही मूल्य प्राप्त करने‘ - को हल करने का एक प्रयास है। यह एक अखिल भारतीय इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग पोर्टल है जो मौजूदा एपीएमसी मंडियों को कृषि वस्तुओं के लिए एकीकृत राष्ट्रीय बाजार बनाने के लिए नेटवर्क प्रदान करता है। यह किसानों को राष्ट्रव्यापी बाजार तक पहुंच देता है, जिसके अंतर्गत उन्हें उनके उत्पाद की गुणवत्ता के अनुरूप सही कीमत, राशि का ऑनलाइन भुगतान प्राप्त करना, तथा उपभोक्ता को उचित कीमतों के अनुरूप बेहतर गुणवत्ता वाले उत्पाद की उपलब्धता सुनिश्चित होती है। इसलिए दोनों वाक्यांश 1 और 2 सही हैं। हालांकि, प्रश्न में ‘‘लाभ‘‘ के स्थान पर सही शब्द ‘विशेषताएं‘‘ होना चाहिए था।
संदर्भ लिंक - http://www.enam.gov.in/NAM/home/about_nam.html#


9. ‘‘राष्ट्रीय बौद्धिक सम्पदा अधिकार नीति (नेशनल इंटेलेक्युअल प्रॉपर्टी राइट्स पालिसी)’ के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. यह दोहा विकास एजेंडा और TRIPPS समझौते के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को दोहराता है।
  2. औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग भारत में बौद्धिक सम्पदा अधिकारों के विनियमन के लिए, केन्द्रक अभिकरण (नोडल एजेंसी) है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (सी) "संविधान और कानून" और "वैश्विक व्यापार" से एक सम्बंधित एक प्रश्न। आईपीआर (बौद्धिक संपदा अधिकार) भारत के लिए सबसे अधिक प्रतिस्पर्धात्मक क्षेत्र है, जब बहुराष्ट्रीय कंपनिया अपने उत्पादों को विशेष रूप से फार्मा और अन्य क्षेत्रों में काफी मात्रा में बेचना चाह रही हैं। मई 2016 में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एनआईपीआर को मंजूरी दे दी थी, जिसका नारा था "राष्ट्रीय बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर) नीति रचनात्मक भारत; अभिनव भारत"। एनआईपीआर, विश्व व्यापार संगठन के ट्रिप्स (व्यापार संबंधी बौद्धिक संपदा अधिकार) पर समझौते के पूर्ण अनुवर्ती है। एनआईपीआर, सभी आईपीआर मुद्दों के लिए औद्योगिक नीति और प्रोत्साहन विभाग (डीआईपीपी) को नोडल एजेंसी बनाने का सुझाव देती है । यह दोहा विकास कार्यसूची के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को भी दोहराता है। इसलिए दोनों वाक्यांश 1 और 2 सही हैं। सम्बंधित लिंक है - http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=145338 इसलिए उत्तर है (सी)


10. वन्यजीव (सुरक्षा) अधिनियम, 1972 के अनुसार, किसी व्यक्ति द्वारा, विधि द्वारा किए गए कतिपय उपबंधों के अधीन होने के सिवाय, निम्नलिखित में से कौन-सा/से प्राणी का षिकार नहीं किया जा सकता?

  1. घड़ियाल
  2. भारतीय जंगली गधा
  3. जंगली भैंस

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "पर्यावरण पारिस्थिति की और जलवायु परिवर्तन" का एक प्रश्न। सूचीबद्ध सभी प्राणियों को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 अंतर्गत संरक्षित किया गया है। घड़ियाल संरक्षित है इसलिए 1 सही है। भारतीय जंगली गधे को संरक्षित किया जाता है अतः 2 सही है, और जंगली भैंस भी संरक्षित है इसलिए 3 सही है। सम्बंधित लिंक है – http://envfor.nic.in/legis/wildlife/wildlife2s1.pdf और http://vindhyabachao.org/wildlife_guidelines/schedule_species_mammals.pdf यदि आप सूची को खोलते हैं, तो यह बहुत लम्बी है, और एक छात्र से इसे याद करने की उम्मीद की जाती है! लगभग असंभव काम? लेकिन अधिक "प्रमुख" प्राणियों का उल्लेख है। इसका उत्तर है (डी)


11. निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से भारतीय नागरिक के मूल कर्तव्य के विषय में सही है/हैं?

  1. इन कर्तव्यों को प्रवर्तित करने के लिए एक विधायी प्रक्रिया दी गई है।
  2. वे विधिक कर्तव्यों के साथ परस्पर संबंधित हैं।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "भारत के संविधान" से सम्बंधित एक प्रश्न। संविधान के भाग IV-A में निर्धारित मौलिक कर्तव्य सांकेतिक प्रकृति के है, और उन्हें लागू किये जाने की मांग लेकर कोई व्यक्ति न्यायालय में नहीं जा सकता। वैधानिक कर्तव्यों का अनुपालन नागरिको के लिए अनिवार्य है, लेकिन मौलिक कर्तव्य अनिवार्य नहीं हैं। "अच्छे नागरिकों" के नैतिक दायित्वों के पालन की एक नागरिक से उम्मीद की जाती है, लेकिन नागरिकों को नैतिक रूप से संविधान द्वारा इन कर्तव्यों का पालन करने के लिए बाध्य किया जाता है। उनके उल्लंघन या गैर-अनुपालन के मामले में किसी भी कानूनी मंजूरी के बिना कार्यवाही की जा सकती है।
सम्बंधित लिंक है – http://www.supremecourtcases.com/index2.php?option=com_content&itemid=1&do_pdf=1&id=21859 इसका उत्तर है (डी)


12. निम्नलिखित युग्मों पर विचार कीजिएः

  1. राधाकांत देब - ब्रिटिश इंडियन एसोसिएशन के प्रथम अध्यक्ष
  2. गजुलु लक्ष्मीनरसु चेट्टी – मद्रास महाजन सभा के संस्थापक
  3. सुरेन्द्रनाथ बनर्जी – इंडियन एसोसिएशन के संस्थापक

उपर्युक्त युग्मों में से कौन-सा/से सही सुमेलित है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर(बी) "आधुनिक भारतीय इतिहास" और "भारत का संविधान" से एक प्रश्न। हम हमेशा इन मॉड्यूलों में नामों का अध्ययन करते हैं, और उन्हें अधिक से अधिक याद रखने की उम्मीद हमसे की जाती है। कांग्रेस की पकड़ बनने से पहले, कई सामाजिक सांस्कृतिक संगठन थे और इस प्रश्न ने यही पूछा। सर सुरेंद्रनाथ बेनर्जी, ब्रिटिश राज के दौरान सबसे पहले भारतीय राजनीतिक नेताओं में से एक थे, जिन्होंने भारतीय राष्ट्रीय संघ की स्थापना की थी। इसलिए 3 सही है। मई 1884 में एम. वीराराघवाचार्यार, जी. सुब्रमणिया अय्यर और पी. आनंदाचार्लु ने मद्रास महाजन सभा की स्थापना की। इसलिए 2 गलत है। अब विकल्प जांचें: (ए) सही नहीं हो सकता। चूंकि 2 गलत है, (सी) और (डी) गलत हैं I इसलिए, सही उत्तर है (बी)। आपको यदि 1 के बारे में पता नहीं था, तो भी प्रश्न हल किया जा सकता है।
(सम्बंधित लिंक है – https://en.wikipedia.org/wiki/Surendranath_Banerjee और https://en.wikipedia.org/wiki/Madras_Mahajana_Sabha) इसका उत्तर है (बी)


13. निम्नलिखित उद्देश्य में से कौन-सा एक भारत के संविधान की उद्देशिका से सन्निविष्ट नहीं है?

  1. विचार की स्वतंत्रता
  2. आर्थिक स्वतंत्रता
  3. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता
  4. विश्वास की स्वतंत्रता

उत्तर(बी) "भारत का संविधान" से एक सरल और सीधा प्रश्न। आपको किसी भी मामले में प्रस्तावना को याद रखना होगा। तो यह 10 सेकंड में हल होने वाला एक सरल प्रश्न था। याद रखें "हम भारत के लोग, भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, समाजवादी, पंथनिरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतंत्रता.....।
सन्दर्भ लिंक - http://indiacode.nic.in/coiweb/coifiles/preamble.htm ) सीधा उत्तर है (बी)


14. ‘‘भारतीय गुणता परिषद् (QCI)" के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. QCI का गठन, भारत सरकार तथा भारतीय उद्योग द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था।
  2. QCI के अध्यक्ष की नियुक्ति, उद्य़ोग द्वारा सरकार को की गई संस्तुतियों पर, प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (सी) ) "समसामयिक विषय" और "शासन प्रणाली" से एक प्रश्न। भारत की गुणवत्ता परिषद (क्यूसीआई) को संयुक्त रूप से भारत सरकार और भारतीय उद्योग द्वारा स्थापित किया गया था, इसलिए वाक्यांश 1 सही है। उद्योगपतियों की सरकार को की गयी सिफारिशों पर इस संगठन के अध्यक्ष की नियुक्ति, वास्तव में प्रधान मंत्री द्वारा की जाती है। अतः वाक्यांश 2 सही है। यह एक कठिन प्रश्न था, जो उद्योगपतियों और विनिर्माण से संबंधित था, और गुणवत्ता से संबंधित मुद्दों को देखते हुए यह महत्वपूर्ण है। (सन्दर्भ लिंक - http://www.qcin.org/about-qci.php ) सीधा उत्तर है (सी)


15. भारत में लघु वित्त बैंकों (SFBs) को स्थापित करने का क्या प्रयोजन है?

  1. लघु व्यवसाय इकाइयों को ऋण की पूर्ति करना
  2. लघु और सीमांत कृशकों को ऋण की पूर्ति करना
  3. युवा उद्यमियों को विशेषतः ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापार स्थापित करने के लिये प्रोत्साहित करना

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (ए) इनका लक्ष्य अर्थव्यवस्था के ऐसे वर्ग हैं जिन्हें अन्य बैंकों द्वारा वित्तीय समावेशन प्रदान नहीं किया जाता है। ये वर्ग हैं: लघु व्यवसाय इकाइयां, छोटे और सीमांत किसान, सूक्ष्म और लघु उद्योग और असंगठित क्षेत्र की संस्थाएं। अतः वाक्यांश 1 वास्तव में सही है। लेकिन इसमें युवा उद्यमियों को व्यवसाय स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करने के स्थान पर इसका मुख्य उद्देश्य वित्तीय समावेश करना है, स्टार्टअप प्रोत्साहन नहीं है (इसके लिए अन्य कार्यक्रम हैं)। यदि आप जानते थे कि वाक्यांश 3 गलत है, तो सभी विकल्प सीधे समाप्त हो जाते हैं! (सन्दर्भ लिंक - https://en.wikipedia.org/wiki/Small_finance_bank ) सीधा उत्तर है (ए)


16. ‘आवास और शहरी विकास पर एशिया पैसिफिक मंत्रिस्तरीय सम्मेलन (APMCHUD)’, के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:

  1. प्रथम APMCHUD भारत में 2006 में संपन्न हुआ, जिसका विशय ‘उभरते शहरी रूप-नीति प्रतिक्रियाऐं और शासन संरचना’ था।
  2. भारत सभी वार्शिक मंत्रिस्तरीय सम्मेलनों की मेज़बानी, ADB, APEC और ASEAN की सहभागिता से करता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) यह कठिन था, और “समसामयिक विषय”. पर आधारित था। वर्तमान सरकार द्वारा शहरी आवास और विकास पर दिया जा रहा ज़ोर, इस तरह के एक प्रश्न को लेने का कारण है। पहला एपीएमसीएचयूडी 2006 में भारत में, "2020 तक एशिया-प्रशांत में शहरीकरण को कायम रखने के लिए एक परिकल्पना", विषय पर आयोजित किया गया था, इसलिए वाक्यांश 1 गलत है। तो या तो (डी) या (बी)। भारत सभी वार्षिक बैठकों की मेजबानी नहीं करता है, इसलिए, (डी) सही है। सन्दर्भ लिंक: http://www.apmchud.com/# )


17. लोकतंत्र का उत्कृष्ट गुण यह है कि वह क्रियाशील बनाता है

  1. साधारण पुरुषों और महिलाओं की बुद्धि और चरित्र को।
  2. कार्यपालक नेतृत्व को सशक्त्त बनाने वाली पद्धतियों को।
  3. गतिशीलता और दूरदर्शिता से युक्त एक बेहतर व्यक्ति को।
  4. समर्पित दलीय कार्यकर्ताओं के एक समूह को।

उत्तर (ए) यह एक सीधा प्रश्न नहीं था, लेकिन हल किया जा सकता था। "समसामयिक विषय", "भारत का संविधान" और "मुद्दों की सामान्य समझ" के आधार पर एक प्रश्न। विकल्प (बी) गलत है क्योंकि केवल नेतृत्व ही लोकतंत्र का आधार नहीं है, जो "लोगों का, लोगों द्वारा, लोगों के लिए" है। विकल्प (डी) स्पष्ट रूप से गलत है क्योंकि यह केवल पार्टी कार्यकर्ताओं (राजनीतिक दलों) पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। विकल्प (ए) और (सी) की अब तुलना की जाना है - हम देखते हैं कि (ए) आम नागरिकों से संबंधित है। इसलिए (ए) सही है।


18. ‘एकीकृत भुगतान अंतरापृष्ठ (यूनिफाइड पेमेंट्स इन्टरफेस / यूपीआई)’ को कार्यन्वित करने से निम्नलिखित में से किसके होने की सर्वाधिक संभाव्यता है?

  1. ऑनलाइन भुगतानों के लिए मोबाइल वालेट आवश्यक नहीं होंगे।
  2. लगभग दो दशको में पूरी तरह भौतिक मुद्रा का स्थान डिजिटल मुद्रा ले लेगी।
  3. FDI अंतर्वाह में भारी वृद्धि होगी।
  4. निर्धन व्यक्तियों को उपदानों (सब्सिडीज़) का प्रत्यक्ष अंतरण (डाइरेक्ट ट्रांसफर) बहुत प्रभावकारी हो जाएगा।

उत्तर (ए) यह आसान प्रश्न था। "समसामयिक विषय" और "शासन प्रणाली" पर आधारित एक प्रश्न। विकल्प (बी) गलत है क्योंकि यह एक चरम वक्तव्य है। विकल्प (सी) स्पष्ट रूप से गलत है क्योंकि यूपीआई के साथ कोई सीधा संबंध नहीं है। विकल्प (विशेष रूप से) गलत है क्योंकि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डी) यूपीआई पर निर्भर नहीं है। इसलिए (ए) सही है। यह प्रश्न आपके सामान्य ज्ञान की जांच करता है, और इसे आसान माना जाएगा! (सन्दर्भ लिंक- http://www.npci.org.in/UPI_Background.aspx)


19. कभी-कभी समाचारों में ‘इवेंट होराइजन’, 'सिंगुलैरिटी’, ‘स्ट्रिंग थियरी’ और ‘स्टैण्डर्ड मॉडल' जैसे शब्द, किस संदर्भ में जाते हैं?

  1. ब्रहाण्ड का प्रेक्षण और बोध
  2. सूर्य और चन्द्र ग्रहणों का अध्ययन
  3. पृथ्वी की कक्षा में उपग्रहों का स्थापन
  4. पृथ्वी पर जीवित जीवों की उत्पत्ति और क्रमविकास

उत्तर (ए) यह उन लोगों के लिए आसान था, जो स्वयं को "पाठ्यक्रम के शब्दों" तक सीमित नहीं रखते हैं, लेकिन उससे परे जाते हैं। "भूगोल" और "समसामयिक विषय" पर आधारित एक प्रश्न। भूगोल मॉड्यूल में पहले व्याख्यान में (यहां वीडियो देख सकते हैं: https://www.youtube.com/watch?v=sEqk5wHyuF4)। हमने बताया कि 'सिंगुलैरिटी’ क्या है। अकेले ही यह शब्द इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए पर्याप्त है, और विकल्प (बी), (सी) और (डी) स्पष्ट रूप से गलत हैं। इसलिए (ए) सही उत्तर है। याद करें कि संबंधित घटनाओं पर समाचार पत्रों में बहुत कुछ छप रहा है (स्टीफन हॉकिंग के विचार-विमर्श, टेलिस्कोप आदि के संदर्भ में)। यहां तक कि गैर-भौतिकी के छात्र भी इसका जवाब आसानी से कर सकते हैं। (सन्दर्भ लिंक- http://www.physicsoftheuniverse.com/topics_blackholes_singularities.html )


20. भारत में कृषि के संदर्भ में, प्रायः समाचारों में आने वाले ‘जीनोम अनुक्रमण (जीनोम सीक्वेंसिंग)’ की तकनीक का आसन्न भविष्य में किस प्रकार उपयोग किया जा सकता है?

  1. विभिन्न फसली पौधों में रोग प्रतिरोध और सूखा सहिष्णुता के लिए अनुवाशिंक सूचकों का अभिज्ञान करने के लिए जीनोम अनुक्रमण का उपयोग किया जा सकता है।
  2. यह तकनीक, फसली पौधों की नई किस्मों को विकसित करने में लगने वाले आवश्यक समय को घटाने में मदद करती है।
  3. इसका प्रयोग, फसलों में पोषी-रोगाणु संबंधों को समझने के लिए किया जा सकता है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "विज्ञान और प्रौद्योगिकी" और "कृषि" पर आधारित एक प्रश्न। भारतीय कृषि के समक्ष समस्याएं, और उत्पादकता को बढ़ाने के लिए आनुवांशिक विज्ञान के अनुप्रयोग ज्वलंत मुद्दे हैं। (संपूर्ण) जीनोम अनुक्रमण एक जीवित जीव जीनोम के एक ही समय में पूरे डीएनए अनुक्रम को निर्धारित करने की प्रक्रिया है। इसके कई अनुप्रयोग हैं, जिसमें बीमारी प्रतिरोध के लिए आनुवांशिक चिन्हों की पहचान करना, नई किस्मों की फसलों के विकास (अधिक उत्पादकता वाले) और फसलों में मेजबान-रोगजनन संबंधों को ढूंढना शामिल है। इसलिए (डी) सही उत्तर है। (संदर्भ लिंक – http://www.genomeindia.org/rice/structural/about.htm)


21. संसदीय स्वरूप के शासन का प्रमुख लाभ यह है कि

  1. कार्यपालिका और विधामण्डल दोनों स्वतंत्र रूप से कार्य करते हैं।
  2. यह नीति की निरन्तरता प्रदान करता है और यह अधिक दक्ष है।
  3. कार्यपालिका, विधानमण्डल के प्रति उत्तरदायी बना रहता है।
  4. सरकार के अध्यक्ष को निर्वाचन के बिना नहीं बदला जा सकता।

उत्तर (सी) "भारत के संविधान" पर आधारित एक प्रश्न। विकल्प (ए) गलत है। भारत में कार्यकारी स्वतंत्र नहीं है (जैसे कि यह अमेरिका में है), लेकिन विधायिका के अधीन है। राजनीतिक कार्यकारी (सरकार) और प्रशासनिक कार्यकारी दोनों स्वतंत्र नहीं हैं। नीति की निरंतरता निश्चित रूप से एक अच्छी बात है, लेकिन नियमित स्थानान्तरण भी उसको कमजोर कर सकते हैं। सरकार का प्रधान, प्रधान मंत्री है जिसे किसी चुनाव के बिना भी बदला जा सकता है, इसलिए (डी) गलत है। अतः विकल्प (सी) सही है। इस मुद्दे पर हमारे पाठ्यक्रम मॉड्यूल में विभिन्न तरीकों से कई बार चर्चा की गई है।


22. भारत के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा अधिकारों और कर्तव्यों के बीच सही संबंध है?

  1. अधिकार कर्तव्यों के साथ सह-संबंधित हैं।
  2. अधिकार व्यक्तिगत है अतः समाज और कर्तव्यों से स्वतंत्र हैं।
  3. नागरिक के व्यक्तित्व के विकास के लिए अधिकार, न कि कर्तव्य, महत्वपूर्ण हैं।
  4. राज्य के स्थायित्व के लिए कर्तव्य, न कि अधिकार, महत्वपूर्ण हैं।

उत्तर (ए) "भारत के संविधान" पर आधारित एक प्रश्न। सभी विकल्पों को सावधानीपूर्वक पढ़ें। विकल्प (बी) को रदद किया जा सकता है क्योंकि यह असंबंधित है। विकल्प (सी) फिर से गलत है क्योंकि कर्तव्यों की अनुपस्थिति में मात्र अधिकारो का उपयोग हानिकारक हैं। विकल्प (डी) में केवल अधिकार और कर्तव्यों का राज्य के लिए क्या अर्थ है, इसका एक-तरफ़ा विवरण है। हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारे अधिकार अंततः किसी और के कर्तव्य हैं। इसलिए, विकल्प (डी) गलत है। विकल्प (ए) बिल्कुल सही है


23. भारत के संविधान के निर्माताओं का मत निम्नलिखित में से किसमें प्रतिबिंबित होता है?

  1. उद्देशिका
  2. मूल अधिकार
  3. राज्य की नीति के निदेशक तत्व
  4. मूल कर्तव्य

उत्तर (ए) "भारत के संविधान" पर आधारित एक प्रश्न। विकल्प (डी) गलत है क्योंकि मूलभूत कर्तव्यों को उद्धरित करने के लगभग 3 दशक बाद संविधान में सम्मिलित किया गया था। विकल्प (सी) में उन दिशा निर्देशों का उल्लेख है जिनपर राज्य को (डीपीएसपी के लिए) काम करना चाहिए। विकल्प (बी) भारत के नागरिकों के लिए गारंटी के बारे में है और यह राज्य की शक्ति की सीमाओं का आधार है। विकल्प (ए) सबसे अच्छा संविधान का "सारांश", इसकी अन्तरआत्मा और आत्मा का प्रतिनिधित्व करता है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर विकल्प (ए) है। (संदर्भ लिंक – http://www.legalservicesindia.com/article/article/is-preamble-a-part-of-constitution-2003-1.html)


24. यदि आप कोहिमा से कोट्टयम की यात्रा सड़क मार्ग से करते हैं, तो आपको मूल स्थान और गंतव्य स्थान को मिलाकर भारत के अंदर कम-से-कम कितने राज्यों में से होकर गुजरना होगा?

  1. 6
  2. 7
  3. 8
  4. 9

उत्तर (बी) "भूगोल" पर आधारित एक प्रश्न। सात राज्य हैं - मणिपुर, असम, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और केरल हैं। स्रोत Google मानचित्र। आपको इसे सही ढंग से हल करने के लिए भारतीय राज्यों के लेआउट और शहरों को बहुत अच्छी तरह से जानना होगा। कोहिमा (नागालैंड की राजधानी) और कोट्टयम (केरल) भारत के दो दूरस्थ शहर हैं!


25. भारत की संसद किसके/किनके द्वारा मंत्रिपरिषद के कृत्यों के उपर नियंत्रण रखती है?

  1. स्थगत प्रस्ताव
  2. प्रश्न काल
  3. अनुपूरक प्रश्न

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "भारत के संविधान" और "संसदीय प्रक्रिया" के आधार पर एक प्रश्न। संसद सदस्य प्रश्न पूछ सकते हैं, जिसका जवाब देने के लिए मन्त्री बाध्य हैं। यह "प्रश्नोत्तर" (लोकसभा बैठक सत्र का पहला घंटा, जब एक मंत्री जवाब देने के लिए बाध्य है, या तो मौखिक रूप से या लिखित रूप में) या "पूरक प्रश्न" (एक मंत्री का उत्तर प्राप्त करने के लिए तारांकित प्रश्न, जिसके लिए पूरक प्रश्न फिर से पूछा जा सकता है)। अत्यंत सार्वजनिक महत्व (जो कि मंत्रिपरिषद की पसंद अथवा नापसंद हो सकता है) के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए स्थगन प्रस्ताव को प्रस्तुत किया जाता है, और सदन की कार्यवाही इस मामले पर चर्चा करने के लिए रोकी जा सकती है। इसलिए विकल्प 1, 2 और 3 सही हैं, और सबसे सही जवाब (डी) है


26. भारत की संसद के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. गैर-सरकारी विधेयक ऐसा विधेयक है जो संसद के ऐसे सदस्य द्वारा प्रस्तुत किया जाता है जो निर्वाचित नहीं है किन्तु भारत के राष्ट्पति द्वारा नामनिर्दिष्ट है।
  2. हाल ही में, भारत की संसद के इतिहास में पहली बार एक गैर-सरकारी विधेयक पारित किया गया है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "भारत के संविधान" और "संसदीय प्रक्रिया" के आधार पर एक प्रश्न। मंत्रियों के अलावा अन्य संसद सदस्यों को "निजी सदस्य" कहा जाता है और उनके द्वारा प्रदत्त बिल को निजी सदस्य के बिल के रूप में जाना जाता है। अतः वाक्यांश 1 गलत है। कई निजी सदस्यों के बिल संसद द्वारा अब तक (अंतिम संख्या में 14) पारित किये गए हैं। अतः कथन 2 गलत है। इसलिए, सबसे सही जवाब है (डी)
(संदर्भ लिंक – http://164.100.47.132/LssNew/abstract/private_members.htm और http://www.prsindia.org/media/articles-citing-prs/only-14-private-members-bills-passed-since-independence-3759)


27. ऋग्वेद-कालीन आर्यों और सिन्धु घाटी के लोगों की संस्कृति के बीच अंतर के संबंध में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. ऋग्वेद-कालीन आर्य कवच और शिरस्त्राण (हेलमेट) का उपयोग करते थे जबकि सिन्धु घाटी सभ्यता के लोगों में इनके उपयोग का कोई साक्ष्य नहीं मिलता।
  2. ऋग्वेद-कालीन आर्यों को स्वर्ण, चाँदी और ताम्र का ज्ञान था जबकि सिन्धु घाटी के लोगों को केवल ताम्र और लोह का ज्ञान था।
  3. ऋग्वेद-कालीन आर्यों ने घोड़े को पालतू बना लिय था जबकि इस बात का कोई साक्ष्य नहीं है कि सिन्धु घाटी के लोग इस पशु को जानते थे।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (ए) यदि आप http://archaeologyonline.net/artifacts/horse-debate देखें, तो आप सिन्धु-सरस्वती के मैदानों में उपलब्ध घोड़े के वास्तविक भौतिक अवशेष के सम्बन्ध में किये गए दावों को देख सकते हैं। सुरकोतड़ा (कच्छ) में घोड़े के अवशेषो की पहचान के सम्बन्ध में ए.के. शर्मा के कार्य वैश्विक अधिकारियों द्वारा भी अनुमोदित किये गए, जिनमे से कई को "घोड़ों के अवशेष" होने की पुष्टि करते हुए और मुख्यतः पालतू घोडे होने की पुष्टि की गयी है! मोहनजो-दारो में एक घोड़े की मूर्ति उभरी है। इसके अलावा, यदि आप https://www.harappa.com/slide/ancient-indus-ornaments और http://heritage.gov.pk/html_pages/indus_jewlery_1.htm पर जाते हैं, तो सोने के आभूषण भी मिले हैं! तो, सही उत्तर होना चाहिए (ए) चूँकि 2 और 3 गलत हैं, लेकिन 1 सही है।


28. ‘पूर्व अधिगम की मान्यता स्कीम (रिकग्निशन ऑफ़ प्रायर लर्निंग स्कीम)’ का कभी-कभी समाचारों में किस संदर्भ में उल्लेख किया जाता है?

  1. निर्माण कार्य में लगे कर्मकारों के पारंपरिक मार्गों से अर्जित कौशल का प्रमाणन
  2. दूरस्थ अधिगम कार्यक्रम के लिए विश्ववविद्यालयों में व्यक्तियों को पंजीकृत करना
  3. सार्वजनिक क्षेत्र के कुछ उपक्रमों में ग्रामीण और नगरीय निर्धन लोगों के लिए कुछ कुशल कार्य आरक्षित करना
  4. राष्ट्रीय कौशल विकास कार्यक्रम के अधीन प्राशिक्षणार्थियों द्वारा अर्जित कौशल का प्रमाणन

उत्तर (ए) "सरकारी योजनाओं" पर आधारित एक प्रश्न। परंपरागत, गैर-औपचारिक शिक्षण चैनलों के माध्यम से श्रमिकों द्वारा प्राप्त कौशल को प्रमाणित करने के लिए पांच राज्यों में निर्माण स्थलों में 'पूर्व अधिगम की मान्यता स्कीम' योजना चल रही है। अत: सही उत्तर है (ए)। यह भारत सरकार के बहुप्रचारित मिशन का हिस्सा है।
(संदर्भ लिंक: http://indianexpress.com/article/india/india-others/formal-badge-for-non-formal-skill/
और http://www.nsdcindia.org/sites/default/files/files/Draft%20Guidelines%20for%20PMKVY%20RPL.pdf)


29. पारिस्थितिक द्रष्टिकोण से, पूर्वी घाटों और पश्चिमी घाटों के बीच एक अच्छा संपर्क होने के रूप में निम्नलिखित में से किसका महत्व अधिक है ?

  1. सत्यामंगलम बाद्य आरक्षित क्षेत्र (सत्यमंगलम टाइगर रिज़र्व)
  2. नल्लामला वन
  3. नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान
  4. शेषाचालम जीवमण्डल आरक्षित (शेषाचालम बायोस्फीयर रिज़र्व)

उत्तर (ए) "भारतीय भूगोल" से संबंधित प्रश्न। नल्लमाला वन (विकल्प (बी) आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में पूर्वी घाट का एक हिस्सा है। सत्यमंगलम टाइगर रिजर्व एक वन्यजीव अभयारण्य है जो पश्चिमी घाट और पूर्वी घाट के बीच स्थित है। विकल्प (सी) - नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान - पश्चिमी घाट में है। विकल्प (डी) केवल पूर्वी घाट को संदर्भित करता है। इसलिए (ए) सबसे सही उत्तर है। (संदर्भ लिंक https://en.wikipedia.org/wiki/Sathyamangalam_Wildlife_Sanctuary)


30. समाज में समानता के होने का एक निहितार्थ यह है कि उसमें

  1. विशेषाधिकारों का अभाव है
  2. अवरोधों का अभाव है
  3. प्रतिस्पर्धा का अभाव है
  4. विचारधारा का अभाव है

उत्तर (ए) "समाज एवं संस्कृति" और "संविधान और कानून" से एक संबंधित एक प्रश्न। यदि किसी समाज में "अवरोध" हैं, तो यह कमजोर वर्गों पर भी हो सकता है, इसलिए समतावाद कभी नहीं हो सकता। यहां तक कि ऐसे समाज में भी जिसमें असमानता (या समानता नहीं) नहीं है, उसके लोगों के बीच प्रतिस्पर्धा हो सकती है। समानता प्रधान समाज की विचारधारा, साम्यवाद या समानतावाद की विचारधारा हो सकती है। लेकिन "विशेषाधिकार" की मौजूदगी एक समानता प्रधान समाज में नहीं हो सकती, क्योंकि वे कुछ व्यंक्तियों के लिए एक विशेष दर्जा प्रदान करती है। इसलिए (ए) सबसे सही उत्तर है। (संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Privilege_(social_inequality))


31. ‘वाणिज्य में प्राणिजात और वनस्पति-जात के व्यापार-संबंधी विश्लेशण (ट्रेड रिलेटेड ऐनालिसिस ऑफ फौना ऐंड फ़्लोरा इन कॉमर्स/TRAFFIC)’ के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. TRAFFIC संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) के अंतर्गत एक ब्यूरो है।
  2. TRAFFIC का मिशन यह सुनिश्चित करना है कि वन्य पादपों और जन्तुओं के व्यापार से प्रकृति के संरक्षण को खतरा न हो।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" का एक प्रश्न। टी.आर.ए.एफ.एफ.आई.सी (ट्रैफ़िक) विश्व वन्यजीव कोष के अंतर्गत स्थासपि एक ब्यूरो है, यू.एन.ई.पी. के अंतर्गत नहीं। अत: वाक्यांश 1 गलत है। वाक्यांश 2 सही है, क्योंकि ट्रैफिक की स्थावपना का उददेश्यो यह सुनिश्चित करना है कि जंगली पौधों और जानवरों का व्यापार, प्रकृति के संरक्षण के लिए एक खतरा नहीं है। इसलिए उत्तर है (बी)। (संदर्भ लिंक:https://en.wikipedia.org/wiki/Traffic_(conservation_programme)


32. संविधान के 42 वें संशोधन द्वारा, निम्नलिखित में से कौन-सा सिद्धान्त राज्य की नीति के निदेशक तत्वों में जोड़ा गया था?

  1. पुरुष और स्त्री दोनों के लिए समान कार्य का समान वेतन
  2. उद्योगों के प्रबंधन में कामगारों की सहभागिता
  3. काम, शिक्षा और सार्वजनिक सहायता पाने का अधिकार
  4. श्रमिकों के लिए निर्वाह-योग्य वेतन एवं काम की मानवीय दशाएं सुरक्षित करना

उत्तर (बी) "भारत के संविधान" से एक प्रश्न । 42वें संशोधन के जरिये 4 निर्देशक सिद्धांत शामिल किए गए हैं: 1. बच्चों के समुचित विकास के लिए अवसरों को सुरक्षित करना (अनुच्छेद 39), 2. समान न्याय को बढ़ावा देने और गरीबों को मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान करना (अनुच्छेद 39 ए), 3. उद्योगों के प्रबंधन में मजदूरों की भागीदारी सुनिश्चित करना (अनुच्छेद 43 ए), और 4. पर्यावरण की सुरक्षा और सुधार और वनों और वन्य जीवों की सुरक्षा (अनुच्छेद 48 ए)। इसलिए (बी) सही है। विदित हो कि 44वें संशोधन 1978 और 97वें संशोधन 2011 के द्वारा भी अधिक सिद्धांत शामिल किए गए हैं। (संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Directive_Principles)


33. निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा एक सही है?

  1. अधिकार नागरिकों के विरूद्ध राज्य के दावे हैं।
  2. अधिकार वे विशेषधिकार हैं जो किसी राज्य के संविधान में समाविष्ट हैं।
  3. अधिकार राज्य के विरूद्ध नागरिकों के दावे हैं।
  4. अधिकार अधिकांश लोगों के विरूद्ध कुछ नागरिकों के विशेषधिकार हैं।

उत्तर (सी) "समाज और संस्कृति" और "संविधान और कानून" से एक प्रश्न। अधिकार नागरिकों को राज्य से कुछ विशिष्ट मांग करने की अनुमति देते हैं। इसलिए (सी) सबसे सही उत्तर है। विकल्प (ए) इसके ठीक विपरीत है, इसलिए गलत है। अधिकार, विशेषाधिकार नहीं हैं, इसलिए (बी) गलत है। विकल्प (डी) असंबंधित है। विकल्प (सी) सही उत्तर है


34. निम्नलिखित में से कौन, विश्व के देशों के लिए ‘सार्वभौम लैंगिक अन्तराल सूचकांक (ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स)’ का श्रेणीकरण प्रदान करता है?

  1. विश्व आर्थिक मंच
  2. यूएन मानव अधिकार परिषद्
  3. यूएन वूमन
  4. विश्व स्वास्थ्य संगठन

उत्तर (ए) "वैश्विक समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न। वैश्विक लिंगानुपात अंतर रिपोर्ट - लैंगिक समानता को मापने के लिए तैयार एक सूचकांक - पहली बार विश्व आर्थिक मंच द्वारा 2006 में प्रकाशित किया गया था। 2016 की रिपोर्ट में 144 प्रमुख और उभरती हुई अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://reports.weforum.org/global-gender-gap-report-2016/)


35. स्मार्ट इण्डिया हैकथान 2017 के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं?

  1. यह हमारे देश के प्रत्येक शहर को एक दशक में स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए केंद्र द्वारा प्रयोजित एक स्कीम है।
  2. यह हमारे देश की अनेक समस्याओं का समाधान करने के लिए नई डिजिटल प्रौद्योगिकी नवप्रवर्तनों के अभिज्ञान की एक पहल है।
  3. यह एक कार्यक्रम है जिसका लक्ष्य एक दशक में हमारे देश में सभी वित्तीय लेन-देनों को पूरी तरह से डिजिटल करना है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 3
  2. केवल 2
  3. केवल 3
  4. केवल 2 और 3

उत्तर (बी) "समसामयिक विषयों" और "शासकीय योजनाओं" से संबंधित एक प्रश्न । 'स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2017' का आयोजन आई4सी, माईगोव पर्सिस्टेंट सिस्टम, नास्कॉम और रामभाउ माल्गी प्रभोधिनी के सहयोग से किया गया था। इसका लक्ष्य डिजिटल इंडिया का निर्माण तथा राष्ट्र निर्माण में सीधे हमारे युवाओं को शामिल करना है। 2017 का यह आयोजन लगातार 36 घंटे में डिजिटल उत्पाद विकास से संबंधित प्रतियोगिता थी, जिसके दौरान हजारों तकनीकी छात्रों की टीम 29 अलग-अलग केंद्र शासन के मंत्रालयों/विभागों द्वारा पोस्ट की गई समस्याओं के निराकरण के लिए अभिनव डिजिटल समाधान प्रस्तुत करेगी। (संदर्भ लिंक: http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=159825)


36. मौद्रिक नीति समिति (मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी/MPC) के संबंध में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. यह आरबीआई की मानक (बेंचमार्क) ब्याज दरों का निर्धारण करती है।
  2. यह एक 12-सदस्यीय निकाय है जिसमें आरबीआई का गवर्नर शामिल है तथा प्रत्येक वर्ष इसका पुनर्गठन किया जाता है।
  3. यह केन्द्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में कार्य करती है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 1 और 2
  3. केवल 3
  4. केवल 2 और 3

उत्तर (ए) "भारतीय अर्थव्यवस्था" और " समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न । कई भयानक सवालों के बीच, यह आपके चेहरे पर मुस्कुराहट ला सकता है! हम जानते हैं कि कैसे एमपीसी (भारतीय रिजर्व बैंक के 3 सदस्य तथा बाहर के 3 लेकिन शासकीय नहीं) जून 2017 में वित्त मंत्रालय के साथ टकराव की स्थिति में रहे थे। इसलिए, 2 और 3 के वाक्यांशों को सीधे खारिज कर दिया गया है। केवल 1 सही है, और उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=151264)


37. मणिपुरी संकीर्तन के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. यह गीत और नृत्य का प्रदर्शन है।
  2. केवल करताल (सिम्बॅल) ही वह एकमात्र वाद्ययंत्र है जो इस प्रदर्शन में प्रयुक्त होता है।
  3. यह भगवान कृष्ण के जीवन और लीलाओं को वर्णित करने के लिए प्रदर्शित किया जाता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. 1, 2 और 3
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. केवल 1

उत्तर (बी) "कला और संस्कृति" से संबंधित एक प्रश्न। मणिपुरी संकीर्तन मणिपुर और पड़ोसी क्षेत्रों में प्रदर्शित एक लोकप्रिय गीत और नृत्य प्रदर्शन है जिसमें संगीत और नृत्य के माध्यम से भगवान कृष्ण के जीवन का वर्णन किया जाता है। कई उपकरणों का इस्तेमाल इस प्रदर्शन में किया जाता है जैसे कि झांझ, ढोल, हार्मोनियम आदि। वाक्यांश 2 स्पष्ट रूप से गलत है। तो विकल्प (ए) और (सी) असंबंधित हैं। सही उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Manipuri_dance#Music_and_instruments)


38. निम्नलिखित में से कौन, ब्रिटिश शासन के दौरान भारत में रैयतवाड़ी बंदोबस्त के प्रारंभ किए जाने से संबद्ध था/थे?

  1. लार्ड कार्नवालिस
  2. अलेक्जैंडर रीड
  3. थामस मुनरो

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (सी) "आधुनिक भारतीय इतिहास" से एक प्रश्न। एक नाम के कारण यह प्रश्न कठिन था - अलेक्जैंडर रीड़। लेकिन आप तीन विकल्पों को अमान्य कर सकते हैं चूंकि 1 - लॉर्ड कॉर्नवालिस इसके साथ जुड़े नहीं थे! ब्रिटिश भारत में राजस्व संग्रहण की तीन प्रमुख विधियों में से एक रैयतवाडी व्यवस्था थी, जो कि मुख्यतः दक्षिण भारत (मद्रास हुकूमत के अंतर्गत) में प्रचलित थी। 18 वीं शताब्दी के अंत में कैप्टन अलेक्जेंडर रीड और थॉमस (बाद में सर थॉमस) मुनरो ने इस प्रणाली को तैयार किया था और सर थॉमस ने मद्रास (अब चेन्नई) के गवर्नर (1820-27) के रूप में कार्य करते हुए इसे लागू किया था। इसका मुख्य उद्देश्य शासकीय अभिकर्ताओं के माध्यम से प्रत्येक किसान से भूमि राजस्व का प्रत्यक्ष संग्रह कर, मध्यस्थों को समाप्त करना था। सही उत्तर है (सी)


39. प्रदूषण की समस्याओं का समाधान करने के संदर्भ में, जैवोपचारण (बायोरेमीडिएशन) तकनीक के कौन-सा/से लाभ है/हैं?

  1. यह प्रकृति में घटित होने वाली जैवनिम्नीकरण प्रक्रिया का ही संवर्धन कर प्रदूषण को स्वच्छ करने की तकनीक है।
  2. कैडमियम और लेड जैसी भारी धातुओं से युक्त किसी भी संदूषक को सूक्ष्मजीवों के प्रयोग से जैवोपचारण द्वारा सहज ही और पूरी तरह उपचारित किया जा सकता है।
  3. जैवोपचारण के लिए विशेषताएं अभिकल्पित सूक्ष्मजीवों को सृजित करने के लिए आनुवंषिक इंजीनियरी (जेनेटिक इंजीनियरिंग) का उपयोग किया जा सकता है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (सी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से संबंधित एक प्रश्न। आप देख सकते हैं कि वाक्यांश 2 में, शब्द "पूर्ण" का उपयोग अधिक है, इसलिए हम उसे टाल देते हैं। वाक्यांशश 1 और 3 सही हैं। सही उत्तर है (सी)। (संदर्भ लिंक: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5026719)


40. 1929 का व्यापार विवाद अधिनियम (ट्रेड डिस्प्यूट्रस ऐक्ट) निम्नलिखित में से किसका उपबंध करता है ?

  1. उद्योगों के प्रबंधन में कामगारों की भागीदारी
  2. औद्योगिक झगड़ों के दमन के लिए प्रबंधन के पास मनमानी करने की शक्ति
  3. व्यापार विवाद की स्थिति में ब्रिटिश न्यायालय द्वारा हस्तक्षेप
  4. अधिकरणों (ट्रिब्यूनल्स) की प्रणाली तथा हड़तालों पर रोक

उत्तर (डी) "संविधान और कानून" से संबद्ध एक प्रश्न। वास्तव में मुश्किल प्रश्न! व्यापार विवाद अधिनियम, 1929 को पांच वर्षों के लिए प्रयोग के तौर पर संहिताबद्ध किया गया था। इस अधिनियम का मुख्य उद्देश्य व्यापार विवादों की जांच एवं समाधान के लिए जांच न्या्यालय एवं समाधानकारी बोर्ड की स्था्पना हेतु प्रावधान तैयार करना था। अधिनियम में सार्वजनिक उपयोगिता सेवाओं में बगैर सूचना के हड़ताल या तालाबंदी को प्रतिबंधित किया गया; साथ ही इसे अवैध करार कर दिया गया। सही उत्तर है (डी)। (संदर्भ लिंक : http://shodhganga.inflibnet.ac.in/bitstream/10603/8113/12/12_chapter%203.pdf)


41. स्थानीय स्वशासन की सर्वोत्तम व्याख्या यह की जा सकती है कि यह एक प्रयोग है

  1. संघवाद का
  2. लोकतांत्रिक विकेंद्रीकरण का
  3. प्रशासकीय प्रत्यायोजन का
  4. प्रत्यक्ष लोकतंत्र का

उत्तर (बी) "शासकीय प्रणाली" से संबंधित एक प्रश्न। यह सवाल सबसे बुनियादी है, और स्थानीय स्वशासन की परिभाषा से संबंधित है। लोकतांत्रिक विकेंद्रीकरण - यह सुनिश्चित करने के लिए कि समाज के सबसे निचले स्तर पर लोकतंत्र का प्रयोग किया जाता है, हमारे पास शहरी और ग्रामीण स्थानीय स्व-सरकारें हैं। सही उत्तर है (बी)


42. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

भारत के संविधान के संदर्भ में, राज्य की नीति के निदेशक तत्व

  1. विधायिका के कृत्यों पर निर्बन्धन करते हैं।
  2. कार्यपालिक के कृत्यों पर निर्बन्धन करते हैं।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "भारत के संविधान" से एक संबंधित एक प्रश्न। विदित रहे कि राज्य नीति के निर्देशक सिद्धांतों को सरकार और प्रशासन दोनों से बहुत अपेक्षा है, और चाहते हैं कि वे कल्याणकारी राज्य की अवधारणा को फैलाने के लिए नए कानून बनाए। अत: सही उत्तर होगा (डी)। एक दृढ़ संकल्पनात्मक प्रश्न, अधिकांश अन्य की तरह।


43. समाचारों में आने वाला ‘डिजिटल एकल बाज़ार कार्यनीति (डिजिटल सिंगल मार्केट स्ट्रेटेजी)’ पद किसे निर्दिष्ट करता है?

  1. ASEAN को
  2. BRICS को
  3. EU को
  4. G20 को

उत्तर (सी) "वैश्विक समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न। वास्तविक प्रश्ना। यूरोपीय संघ ने विनियामक प्रतिबंधों को समाप्त करने का प्रस्ताव और 28 राष्ट्रीय बाजारों (अब 27!) के स्थापन पर एक एकल बाजार को स्थापित करने का प्रस्ताव ऑनलाइन किया था। यह एक महत्वाकांक्षी परियोजना है जिसमें यूरोपीय संघ के बीच सीमाओं को दूर करना और पूरे यूरोप में वस्तुओं और सेवाओं के क्रॉस-कंट्री बिक्री को बढ़ावा देना शामिल है। सही उत्तर होगा (सी)। (संदर्भ लिंक: https://ec.europa.eu/commission/priorities/digital-single-market_en)


44. भारत में एक ऐसा स्थान है, जहां यदि आप समुद्र किनारे खड़े होकर समुद्र का अवलोकन करें, तो आप पाऐंगें कि दिन में दो बार समुद्री जल तटीय रेखा से कुछ किलोमीटर पीछे की ओर चला जाता है और फिर तट पर वापस आता है, और जब जल पीछे हटा होता है, तब आप वास्तव में समुद्र तल पर चल सकते हैं। यह अनूठी घटना कहां देखी जाती हैं?

  1. भावनगर में
  2. भीमुनिपटनम में
  3. चांदीपुर में
  4. नागपट्टिनम में

उत्तर (सी) "भूगोल" से एक प्रश्न। अब्दुल कलाम द्वीप, जिसे पूर्व में व्हीलर द्वीप के नाम से जाना जाता था, पर चांदीपुर नामक एक प्रसिद्ध स्थल (चांदीपुर-समुद्र) जिसमें भारतीय सेना की एकीकृत टेस्ट रेंज (आईटीआर) स्थापित है। संभवत: इसलिए यह प्रश्नं पूछा गया था! यह समुद्र तट अनोखा है क्योंकि ज्वार के दौरान पानी 5 किलोमीटर तक पीछे हट जाता है। उत्तर है (सी)। चांदीपुर के रहने वाले उम्मीदवारों को इस प्रश्नं पर उत्साहित होना चाहिए! (संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Chandipur,_Odisha)


45. ‘बेनामी संपत्ति लेन-देन का निषेध अधिनियम, 1988 (PBPT अधिनियम)’ के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. किसी संपत्ति का लेन-देन बेनामी लेन-देन नहीं समझा जाएगा यदि संपत्ति का मालिक उस लेन-देन के बारे में अवगत नहीं है।
  2. बेनामी पाई गई संपत्तियां सरकार द्वारा जब्त किए जाने के लिये दायी होंगी।
  3. यह अधिनियम जांच के लिये तीन प्राधिकारियों का उपबंध करता है किन्तु यह किसी अपीलीय क्रियाविधि का उपबंध नहीं करता।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. केवल 1 और 3
  4. केवल 2 और 3

उत्तर (बी) "समसामयिक विषयों" और "नए कानून" से एक प्रश्न। यह एक ज्वलंत विषय था, विशेषकर विमुद्रीकरण के बाद, और प्रश्न वास्तव में अपेक्षित थे! विदित हो कि, अपीलीय तंत्र मौजूद है (यह उपलब्ध है)। तो वाक्यांश 3 गलत है, इसलिए विकल्प (सी) और (डी) गलत हैं। हम जानते हैं कि 2 सही (हाल ही में कई राजनीतिक घोषणाएं हुई हैं), इसलिए केवल विकल्प (बी) हमारा वांछित उत्तर है! (संदर्भ लिंक: http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=153085)


46. कुछ कारणों वश, यदि तितलियों की जाति (स्पीशीज) की संख्या में बड़ी गिरावट होती है, तो इसका/इसके संभावित परिणाम क्या हो सकता/सकते है/हैं?

  1. कुछ पौधों के परागण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।
  2. कुछ कृष्य पौधों में कवकीय संक्रमण प्रचण्ड रूप से बढ़ सकता है।
  3. इसके कारण बर्रों, मकड़ियों और पक्षियों की कुछ प्रजातियों की समिष्टि में गिरावट हो सकती है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (सी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से एक कठिन और तार्किक प्रश्न्। वाक्यांरश 1 सही है क्योंकि तितलियों परागण फैलाने का अच्छा माध्य‍म है। वाक्यांथश 2 गलत है क्योंकि तितली की आबादी में कमी से फफूंदी से होने वाला संक्रमण कम हो जाएगा। लेकिन क्यूं ? चूंकि तितलियों के कारण हर जगह फफूंद के जीवाणू फैलते हैं, इस वजह से फफूंदी से होने वाला संक्रमण भी फैलता है। वाक्यांश 3 सही है क्योंनकि कुछ प्रजातियों के बर्रे, मकड़ियां और पक्षी, तितलियों और इल्लियों का भोजन करते हैं। अत: (सी) सर्वश्रेष्ठ उत्ततर है। संदर्भ लिंक : https://en.wikipedia.org/wiki/Butterfly)


47. शैवाल आधारित जैव-ईंधनों का उत्पादन संभव है लेकिन इस उद्योग के संवर्धन में विकासषील देशों की क्या संभावित सीमा/सीमाए है/हैं?

  1. शैवाल आधारित जैव-ईंधनों का उत्पादन केवल समुद्रों में ही संभव है, महाद्वीपों पर नहीं।
  2. शैवाल आधारित जैव-ईंधन उत्पादन को स्थापित करने और इंजीनियरी करने हेतु निर्माण पूरा होने तक उच्च स्तरीय विषेशज्ञता/प्रौद्योगिकी की जरूरत होती है।
  3. आर्थिक रूप से व्यवहार्य उत्पादन के लिए बड़े पैमाने पर सुविधाओं की स्थापना की आवश्यकता होती है जिससे पारिस्थितिक एवं सामाजिक सरोकार उत्पन्न हो सकते हैं।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (बी) वाक्यांश (1) गलत है क्योंकि शैवाल आधारित जैव ईंधन को खुले तालाबों, कृत्रिम कंटेनर आदि में भी तैयार किया जा सकता है, हालांकि अब इस तकनीक का उपयोग नहीं किया जाता है (प्रश्नध में "ऐसा संभव नहीं है" बताया गया है, अत: प्रश्न गलत है)। (संदर्भ लिंक:https://en.wikipedia.org/wiki/Algae_fuel#Algae_cultivation) वाक्यांश 2 और 3 सही हैं I यह एक अपेक्षाकृत नई तकनीक है जिसे वर्तमान में निर्माण पूरा होने तक विशेषज्ञता की आवश्यकता है। चूंकि इसकी उपज उतनी लाभप्रद नहीं है, अत: बड़े सेट-अप की आवश्यकता होगी जो पारिस्थितिक और सामाजिक समस्यातओं को बढ़ाएगा। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (बी)। (संदर्भ लिंक:http://articles.extension.org/pages/26600/algae-for-biofuel-production)


48. निम्नलिखित में से कौन-से ‘राष्ट्रीय पोषण मिशन (नेशनल न्यूट्रिशन मिशन)‘ के उद्देश्य हैं?

  1. गर्भवती महिलाओं तथा स्तनपान कराने वाली माताओं में कुपोषण से संबंधी जागरूकता उत्पन्न करना।
  2. छोटे बच्चों, किशोरियों तथा महिलाओं में बाजरा, मोटा अनाज तथा अपरिष्कृत चावल के उपभोग को बढ़ाना।
  3. बाजरा, मोटा अनाज तथा अपरिष्कृत चावल के उपभोग को बढ़ाना।
  4. मुर्गी के अंडों के उपभोग को बढ़ाना।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 1, 2 और 3
  3. केवल 1, 2 और 4
  4. केवल 3 और 4

उत्तर (ए) "सरकारी योजनाओं" से एक प्रश्न। राष्ट्रीय पोषण मिशन में मुर्गी के अंडे या बाजरा, चावल आदि का कोई जिक्र नहीं है, इसलिए 3 और 4 वाक्यांश गलत हैं। अत: संभावित उत्तर केवल (ए) है। (संदर्भ लिंक: http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=108509 )


49. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. फैक्टरी ऐक्ट, 1881 औद्योगिक कामगारों की मजदूरी नियत करने के लिए और कामगारों को मजदूर संघ बनाने देने की दृष्टि से पारित किया गया था।
  2. एन.एम. लोखंडे ब्रिटिश भारत में मजदूर आन्दोलन संगठित करने में अग्रगामी थे।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) वाक्यांश 1 गलत है क्योंकि 1881 में औद्योगिक मजदूरी तय करने का कोई प्रावधान नहीं था जबकि उस समय के ब्रिटिश राज में लोगों को उनकी मौत की पराकाष्टा तक, कारखानों और खदानों में काम कराया जा रहा था!, इसके अलावा, ट्रेड यूनियन बनाने की अनुमति देने का कोई सवाल ही नहीं था, हालांकि एन.एम. लोखंडे और अन्य इसी के लिए कड़ी मेहनत कर रहे थे। वाक्यांश 2 सही है। उत्तर है (बी)। (संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Narayan_Meghaji_Lokhande)


50. कार्बन डाइआक्साइड के मानवोद्भवी उत्सर्जनों के कारण आसन्न भूमंडलीय तापन के न्यूनीकरण के संदर्भ में, कार्बन प्रच्छादन हेतु निम्नलिखित में से कौन-सा/से संभावित स्थान हो सकता/सकते है/हैं?

  1. परित्यक्त एवं गैर-लाभकारी कोयला संस्तर
  2. निःषेश तेल एवंपरित्यक्त एवं गैर-लाभकारी कोयला संस्तर
  3. निःशेष तेल एवं गैस भण्डार
  4. भूमिगत गभीर लवणीय शैलसमूह

नीचे दए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 3
  2. केवल 1 और 3
  3. 1, 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से एक प्रश्न। कार्बन अधिग्रहण, कार्बन के अवशोषण और वायुमंडलीय कार्बन डाइऑक्साइड के दीर्घकालिक भंडारण में शामिल प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया में ग्लोबल वार्मिंग को कम करने या रोकने के लिए कार्बन डाइऑक्साइड या अन्य प्रकार के कार्बन के दीर्घकालिक भंडारण शामिल हैं। उपसतह खारा जलमानी, जलाशयों, महासागर के पानी, पुराने तेल के कुओं या अन्य कार्बन के स्त्रोत के माध्योम से उद्योगों से उत्सजर्जित कार्बन के बड़े पैमाने पर, कृत्रिम अभिग्रहण और अधिग्रहण करने सहित कृत्रिम प्रक्रियाएं तैयार की गई हैं। तो, विकल्प (डी) हमारा वांछित जवाब है! (संदर्भ लिंक: https://sequestration.mit.edu/


51. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. लोक सभा अथवा राज्य की विधान सभा के निर्वाचन में, जीतने वाले उम्मीदवार को निर्वाचित घोषित किए जाने के लिए, किए गए मतदान का कम-से-कम 50 प्रतिशत पाना अनिवार्य है।
  2. भारत के संविधान में अधिकथित उपबंधों के अनुसार, लोक सभा में अध्यक्ष का पद बहुमत वाले दल को जाता है तथा उपाध्यक्ष का पद विपक्ष को जाता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "संविधान और कानून" और "भारतीय राजनीति" से एक प्रश्‍न। भारत चुनावों की "सर्वाधिक मत-विजेता ही विजयी" प्रणाली का अनुसरण करता है जिसमें 50% से अधिक की जीत होने का मानदंड नहीं है, लेकिन सबसे अधिक वोट प्राप्त करना आवश्‍यक है। डिप्टी स्पीकर (उपाध्यक्ष) के चुनाव के बारे में कोई संवैधानिक प्रावधान नहीं है, लेकिन यह एक ऐसी परिपाटी है जिसमें विपक्षी दल का उम्‍मीदवार ही यह पद प्राप्त करता है। इसलिए, 1 और 2 दोनों गलत हैं, अत: विकल्प (डी) हमारा वांछित उत्‍तर है!


52. निम्नलिखित में से कौन-सा/से भारत में 1991 में आर्थिक नीतियों के उदारीकरण के बाद घटित हुआ/हुए है/हैं?

  1. जीडीपी में कृषि का अंश बृहत् रूप से बढ़ गया।
  2. विश्व व्यापार में भारत के निर्यात का अंश बढ़ गया।
  3. एफडीआई का अंतर्वाह (इनफ्लो) बढ़ गया।
  4. भारत का विदेशी विनिमय भंडार बृहत् रूप से बढ़ गया।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 4
  2. केवल 2, 3 और 4
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2, 3 और 4

उत्तर (बी) "भारतीय अर्थव्यवस्था" और "समसामयिक मामलों" से एक प्रश्न। हम बहुत अच्छी तरह से जानते हैं कि हमारे सकल घरेलू उत्पाद की गणना में के प्रतिशत के रूप में कृषि का हिस्सा लगातार घटा है। इसलिए वाक्‍यांश 1 गलत है, अत: विकल्प (ए) और (डी) गलत हैं। अब अंतिम उत्तर के लिए सिर्फ वाक्‍यांश 4 का परीक्षण करें। हमारे विदेशी मुद्रा भंडार में कई कारकों के कारण आर्थिक उदारीकरण के बाद वृद्धि हुई है। इसलिए, विकल्प (बी) वांछित जवाब है। एक बहुत ही आसान प्रश्‍न। https://sequestration.mit.edu/)


53. कायिक कोशिका न्यूक्लीय अंतरण प्रौद्योगिकी (सोमैटिक सेल न्यूक्लियर ट्रान्सफर टेक्नोलाजी) का अनुप्रयोग क्या है?

  1. जैव-डिम्भनाशी का उत्पादन
  2. जैव-निम्नीकरण प्लास्टिक का निर्माण
  3. जंतुओं की जननीय क्लोनिंग
  4. रोग मुक्त जीवों का उत्पादन

उत्तर (सी) "विज्ञान और प्रौद्योगिकी" से एक प्रश्‍न। आपको सिर्फ पहले इसे एक बार पढ़ना था! सोमैटिक कोशिका परमाणु स्थानांतरण तकनीक का प्रयोग जानवरों के प्रजनन में क्लोनिंग के लिए किया जाता है। उत्तर है (सी)। (संदर्भ लिंक: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3539358/)


54. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया/NPCI) देश में वित्तीय समावेशन के संवर्धन में सहायता करता है।
  2. NPCI ने कार्ड भुगतान स्कीम RuPay प्रारंभ की है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (सी) एक कठिन प्रश्‍न, जैसा कि "वित्तीय समावेशन" वाले हिस्से में कई लोगों भ्रमित हुए। इसकी आधिकारिक साइट कहती है: "एनपीसीआई भारत में सभी खुदरा भुगतान प्रणाली के लिए एकछत्र संगठन है। इसे भारतीय रिजर्व बैंक और भारतीय बैंक संघ (आईबीए) के मार्गदर्शन और सहायता से स्थापित किया गया था। मूल उद्देश्य सभी रिटेल भुगतान प्रणालियों के लिए राष्ट्रव्यापी एकरूप और मानक व्यवसाय प्रक्रिया में सेवा स्तर को बदलकर कई प्रणालियों को एकजुट और एकीकृत करना था। दूसरा उद्देश्य देश भर में आम आदमी को लाभान्वित करने और वित्तीय समावेशन में सहायता करने के लिए एक सस्ती भुगतान तंत्र की सुविधा प्रदान करना है। "इसलिए वाक्‍यांश 1 सही है। साथ ही, RuPay एनपीसीआई द्वारा शुरू की गई एक नई कार्ड भुगतान योजना है, इसलिए वाक्‍यांश 2 सही है। इसलिए, उत्तर विकल्प (सी) है। (संदर्भ लिंक: http://www.npci.org.in/aboutus.aspx)


55. ‘M-StrIPES’ शब्द कभी-कभी समाचारों में किस संदर्भ में देखा जाता है?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से संबंधित एक संक्षिप्त नाम आधारित प्रश्न। "MSTrIPES" का अर्थ है "बाघों के लिए निगरानी प्रणाली - गहन संरक्षण और पर्यावरणीय स्थिति"। इसलिए, उत्तर विकल्प (बी) है। (संदर्भ लिंक: http://admin.indiaenvironmentportal.org.in/files/mstripes-ppt.pdf)


56. ‘वस्तु एवं सेवा कर (गुड्स ऐंड सर्विसेज़ टैक्स/जीएसटी)’ के क्रियान्वित किए जाने का/के सर्वाधिक संभावित लाभ क्या है/हैं?

  1. यह भारत में बहु-प्राधिकरणों द्वारा वसूल किए जा रहे बहुल करों का स्थान लेगा और इस प्रकार एकल बाज़ार स्थापित करेगा।
  2. यह भारत के ‘चालू खाता घाटे’ को प्रबलता से कम कर उसके विदेशी मुद्रा भण्डार को बढ़ाने हेतु उसे सक्षम बनाएगा।
  3. यह भारत की अर्थव्यवस्था की संवृद्धि और आकार को बृहद् रूप से बढ़ाएगा और उसे निकट भविष्य में चीन से आगे निकल जाने योग्य बनाएगा।

नीचे दिए गए कट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) उत्तर (ए) "भारतीय अर्थव्यवस्था" और "कराधान - जीएसटी" से एक प्रश्‍न। एक आसान प्रश्‍न, संभवतः कई लोग जीएसटी जल्‍द लागू होने से परेशान या डरे हुए हैं! वाक्‍यांश 2 और 3 असंबंधित हैं, क्योंकि वे अत्यधिक दावे करते हैं, ज्यादातर काल्पनिक और भविष्यवादि। लेकिन वाक्‍यांश 1 निश्चित रूप से सही है! सर्वश्रेष्ठ उत्तर विकल्प (ए) है। आपके संदर्भ के लिए जीएसटी पर एक व्यापक लेख इस लिंक पर देखा जा सकता है – (संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/2016/12/GST-India-Council-Taxation-Direct-Indirect-Reform-States-GSTN-GSTCouncil-demonetisation.html)


57. ‘व्यापक-आधारयुक्त व्यापार और निवेश करार (ब्राड-बेस्ड ट्रेड ऐंड इन्वेस्टमेंट एग्रीमेंट/BTIA।)’ कभी-कभी समाचारों में भारत और निम्नलिखित में से किस एक के बीच बातचीत के संदर्भ में दिखाई पड़ता है?

  1. यूरोपीय संघ
  2. खाड़ी सहयोग परिषद्
  3. आर्थिक सहयोग और विकास संगठन
  4. शंघाई सहयोग संगठन

उत्तर (बी) "भारत के अंतर्राष्ट्रीय मामलों" और "वैश्विक व्यापार" से संबंधित एक सीधा प्रश्‍न। 2007 के बाद से, जब भारत-यूरोपीय संघ के बीटीआईए वार्ता शुरू हुई, मुख्य वार्ताकारों के स्तर पर 16 दौर की बातचीत हुई। वार्ता का अंतिम दौर 2013 में आयोजित किया गया था और इसके बाद वार्ता को निलंबित कर दिया गया था। (संदर्भ लिंक: http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=147137)


58. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. भारत ने WTO के व्यापार सुगम बनाने के करार TFA का अनुसमर्थन किया है।
  2. TFA, WTO के बाली मंत्रिस्तरीय पैकेज 2013 का एक भाग है।
  3. TFA जनवरी 2016 में प्रवृत्त हुआ।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (ए) "वैश्विक समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न। शायद सबसे आसान सवालों में से एक चूंकि, TFA फरवरी 2017 से ही लागू हुआ! यह सभी सत्रों में व्यापक रूप से हमारे द्वारा समाविष्‍ट किया गया था। अत: वाक्‍यांश 3 गलत है, इसलिए विकल्प (बी), (सी) और (डी) गलत हैं! इसलिए, वांछित उत्तर (ए) है!
(संदर्भ लिंक: https://www.wto.org/english/news_e/news17_e/fac_31jan17_e.htm)


59. भारत द्वारा चाबहार बंदरगाह विकसित करने का क्या महत्व है?

  1. अफ्रीकी देशों से भारत के व्यापार में अपार वृद्धि होगी।
  2. तेल-उत्पादक अरब देशों से भारत के संबंध सुदृढ़ होंगे।
  3. अफगानिस्तान और मध्य एशिया में पहुंच के लिए भारत को पाकिस्तान पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा।
  4. पाकिस्तान, इराक और भारत के बीच गैस पाइपलाइन का संस्थापन सुगम बनाएगा और उसकी सुरक्षा करेगा।

उत्तर (सी) "भारत के अंतर्राष्ट्रीय मामलों" और "वैश्‍विक समसामयिक विषयों" से एक और प्रश्‍न। दोबारा आसान प्रश्‍न, अगर आपने इस समाचार पर गौर किया हो। सीपीईसी और ग्वादर गहरे समुद्रीय बंदरगाह के संदर्भ में, और चाबहार पर भारत से आंदोलन को धीमा करने के लिए ईरान के आपत्तियों को भी आपको पता होना चाहिए कि विकल्प (ए) और (बी) इसके लिए अप्रासंगिक हैं। वे अब भी जारी रहे हैं विकल्प (डी) इस मुद्दे के अनाज के खिलाफ जा रहा है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर (सी) है, चूंकि चाबहार बंदरगाह मध्य एशिया और अफगानिस्तान में भारत में प्रवेश की अनुमति देता है, हालांकि एससीओ की सदस्यता के साथ भी धीरे-धीरे एक मुद्दा कम हो सकता है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: http://saar.bodhibooster.com/2017/04/India-INSTC-OBOR-Russia-Lapis-Lazuli-Chabahar.html)


60. भारत में, साइबर सुरक्षा घटनाओं पर रिपोर्ट करता निम्नलिखित में से किसके/किनके लिए विधितः अधिदेशात्मक है/हैं?

  1. सेवा प्रदाता (सर्विस प्रोवाईडर)
  2. डेटा सेंटर
  3. कार्पोरेट निकाय (बाडी कार्पोरेट)

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 1 और 2
  3. केवल 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) साइबर सुरक्षा चिंताओं, एटीएम हैकिंग की घटनाओं और रेनसमवेयर की घटनाओ के माहौल में, यह "विज्ञान और प्रौद्योगिकी" और "शासन प्रणाली" विषय से अपेक्षित प्रश्न था। सूचना प्रौद्योगिकी नियम 2013 (भारतीय कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम और क्रियाकलापो एवं कर्तव्यों का प्रदर्शन करने के लिए) जिन्हें सीईआरटी नियम कहा जाता है, के तहत एक निर्धारित समय के भीतर साइबर घटनाओं की रिपोर्ट करने के लिए सेवा प्रदाताओं, मध्यस्थों, डेटा केंद्रों और विभिन्न निकाय बाध्यकारी हैं, ताकि सीईआरटी को समय पर कार्रवाई के लिए अवसर रहे। उत्तर है (डी)। (संदर्भ लिंक: https://cis-india.org/internet-governance/blog/incident-response-requirements-in-indian-law)


61. भारत में मताधिकार और निर्वाचित होने का अधिकार

  1. मूल अधिकार है
  2. नैसर्गिक अधिकार है
  3. संवैधानिक अधिकार है
  4. विधिक अधिकार है

उत्तर (सी) सबसे पेचीदा सवालों में से एक! 2015 में सर्वोच्च न्यायालय में जस्टिस चेलमेश्वर और अभय मनोहर सप्रे के बेंच में दायर प्रकरण "राजबाला एवं अन्य बनाम हरियाणा राज्य एवं अन्य” में दिए गए निर्णय दिनांक 10 दिसंबर 2015 के आधार पर दशकों से कई न्यायिक घोषणाएं समाप्त हो गईं, जिसमे यह उल्लेखित है कि "उपरोक्त दो आधिकारिक घोषणाओ के प्रकाश में, हमारा सुविचारित अभिमत हैं कि दोनों अधिकार यथा "मताधिकार" और "निर्वाचित होने का अधिकार" एक नागरिक के संवैधानिक अधिकार हैं"। इस मुद्दे का कुटिल इतिहास - (1) संविधान का अनुच्छेद 326 वयस्कों को मताधिकार प्रदान करता है, लेकिन "मताधिकार" का उल्लेख नहीं करता है, (2) भारत के संविधान का ६१वाँ संशोधन में मतदान की उम्र 21 साल से 18 साल की गयी, (3) सर्वोच्च न्यायालय ने यह अभिमत दिया है कि ऐसे अधिकारों को जिन्हें संविधान में स्पष्ट रूप से निर्दिष्ट नहीं किया गया है, जैसे कि गोपनीयता का अधिकार, सामान्यतया अंतर्निहित रूप में पढ़ी जाती है, और सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा "... लेकिन यह प्रक्रिया "मताधिकार" का वर्णन नहीं करती है और यह हमेशा एक अविच्छेद्य संवैधानिक अधिकार के रूप में कायम नहीं था", (4) फिर सर्वोच्च न्यायालय का यह कथन ... यह परेशान करने वाली बात है कि अदालत अभी भी मताधिकार को संवैधानिक अधिकार स्वीकार नहीं करती है। चुनावी प्रक्रिया में भागीदारी अक्सर अधिकारों के प्रवेश द्वार के रूप में या अधिकारों के अधिकार के रूप में देखी जाती है। (5) सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा " एन पी पोन्नुस्वामी बनाम रिटर्निंग ऑफिसर, नमक्कल निर्वाचन क्षेत्र, नमककल, सलेम, एआईआर 1952 एससी 64 और ज्योति बसु और अन्य बनाम देवी घोषाल और अन्य, (1982) 1 एससीसी 691, के सुनवाई प्रकरणों में सर्वोच्च न्यायालय ने निष्कर्ष दिया कि "मताधिकार" यदि मौलिक अधिकार नहीं है तो यह निश्चित रूप से एक "संवैधानिक अधिकार" है और "इसे एक वैधानिक अधिकार मानना, बहुत सटीक नहीं है, शुद्ध और सरल रूप में, यह कहा गया है कि मत देने की स्वतंत्रता मताधिकार से अलग है, यह मूलभूत अधिकार का एक पहलू है जिसका वर्णन अनुच्छेद 19 (1) (ए) में है, (एफ) किन्ही एक सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश ने, पीयूसीएल के मामले में, देशीय मुरपोकु द्रविड़ कज़गम (डीएमडीके) और अन्य बनाम भारतीय चुनाव आयोग (2012) 7 एससीसी 340 प्रकरण में यह कहा कि "...... इस देश के हर नागरिक को संविधान द्वारा बनाई गई किसी भी विधायी निकाय के लिए चुने जाने अथवा इस हेतु मताधिकार का प्रयोग, एक संवैधानिक अधिकार है ...।" यह विवरण इस प्रश्न (प्रीलिम्स 2017) का भी हल होना चाहिए! सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/legalreferences.html)


62. ‘विकसित लेज़र व्यक्तिकरणमापी अंतरिक्ष ऐन्टेना (इवाल्वड लेज़र इन्टरफेरोमीटर स्पेस ऐन्टेना/eLISA।)’ परियोजना का क्या प्रयोजन है?

  1. न्यूट्रिनों का संसूचन करना
  2. गुरूत्वीय तरंगों का संसूचन करना
  3. प्रक्षेपणास्त्र रक्षा प्रणाली की प्रभावकारिता का संसूचन करना
  4. हमारी संचार प्रणालियों पर सौर प्रज्वाल (सोलर फ्लेयर) के प्रभाव का अध्ययन करना

उत्तर (बी) "समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न। विकसित लेजर व्यतिकरंमापी अंतरिक्ष एंटीना (ई-एलआईएसए) को खगोलीय स्रोतों से आने वाली गुरुत्वीय तरंगो, अंतरिक्ष समय की छोटी तरंगों का पता लगाने के लिए विकसित किया गया है। ई-एलआईएसए पहला समर्पित, अंतरिक्ष आधारित गुरुत्वाकर्षी लहर संसूचक होगा। इसका उद्देश्य लेज़र इंटरफेरोमेट्री का उपयोग करके गुरुत्वीय तरंगो को सीधे मापना है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Laser_Interferometer_Space_Antenna)


63. ‘विद्यांजलि योजना’ का क्या प्रयोजन है?

  1. प्रसिद्ध विदेशी शिक्षण संस्थाओं को भारत में अपने कैम्पस खोलने में सहायता करना।
  2. निजी क्षेत्र और समुदाय की सहायता लेकर सरकारी विद्यालयों में दी जाने वाली शिक्षा की गुणवता बढ़ाना।
  3. प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों की आधारिक संरचना सुविधाओं के संवर्धन के लिए निजी व्यक्तियों और संगठनों से ऐच्छिक वित्तीय योगदान को प्रोत्साहित करना।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 2
  2. केवल 3
  3. केवल 1 और 2
  4. केवल 2 और 3

उत्तर (ए) "शासकीय योजनाओं" से सम्बंधित एक प्रश्न। सर्व शिक्षा अभियान के समग्र तत्वावधान में देश भर में शासकीय प्राथमिक विद्यालयों में समुदायिक और निजी क्षेत्र की भागीदारी बढ़ाने के लिए विद्यांजली योजना एक पहल है। इस पहल के अंतर्गत भारतीय जन विसर्जन में से, सेवानिवृत्त शिक्षक, सेवानिवृत्त शासकीय कर्मचारी, सेवानिवृत्त रक्षाकर्मी, सेवानिवृत्त पेशेवर और घरेलू महिलायें, एक विद्यालय में शिक्षक के रूप में योगदान दे सकते हैं, जिसमें मात्र एक व्यक्ति की आवश्यकता है। अतः व्याक्यांश 1 पृथक है, और 3 भी गलत है क्योंकि यह योजना वित्तीय सहायता और निजी संगठनों से दान पर केंद्रित नहीं है। उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://vidyanjali.mygov.in/index.php/frontend/guideline)


64.‘उन्नत भारत अभियान’ कार्यक्रम का ध्येय क्या है?

  1. स्वैच्छिक संगठनों और सरकारी शिक्षा तंत्र तथा स्थानीय समुदायों के बीच सहयोग का प्रोन्नयन कर 100 प्रतिशत साक्षरता प्राप्त करना।
  2. उच्च शिक्षा संस्थाओं को स्थानीय समुदायों से जोड़ना जिससे समुचित प्रौद्योगिकी के माध्यम से विकास की चुनौतियों का सामना किया जा सके।
  3. भारत को वैज्ञानिक और प्रौद्योगिक शक्ति बनाने के लिए भारत की वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थाओं को सशक्त करना।
  4. ग्रामीण और नगरीय निर्धन व्यक्तियों के स्वास्थ्य देखभाल और षिक्षा के लिए विशेष निधियों का विनिधान कर मानव पूंजी विकसित करना और उनके लिए कौशल विकास कार्यक्रम तथा व्यावसायिक प्रशिक्षण आयोजित करना।

उत्तर (बी) "शासकीय योजनाओं" से सम्बंधित एक प्रश्न। इसका उद्देश्य महात्मा गांधी द्वारा प्रस्तावित 'ग्राम स्वराज' की अवधारणा के साथ आत्मनिर्भर और दीर्घकालिक ग्राम समूहों के स्वदेशी विकास की प्रक्रिया में देश के पेशेवर और अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों को शामिल करना है। इसके अंतर्गत पेशेवर संस्थानों में लोकाचार, शैक्षणिक पाठ्यक्रम और अनुसंधान कार्यक्रमों के पुन:स्थापन का प्रस्ताव है, जिससे कि उन्हें राष्ट्रीय आवश्यकताओं एवं ग्रामीण क्षेत्रों की आवश्यकताओं की पूर्ति के अनुकूल बनाया जा सके। अतः स्पष्ट रूप से विकल्प (बी) सही उत्तर है
(संदर्भ लिंक: http://unnat.iitd.ac.in/index.php/en)


65. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. भारत का निर्वाचन आयोग पांच सदस्यीय निकाय है।
  2. संघ का गृह मंत्रालय, आम चुनाव और उप-चुनावों दोनों के लिए चुनाव कार्यक्रम तय करता है।
  3. निर्वाचन आयोग मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के विभाजन/विलय से संबंधित विवाद निपटाता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 2
  3. केवल 2 और 3
  4. केवल 3

उत्तर (डी) "भारतीय राजतन्त्र" और "शासकीय प्रणाली एवं संस्थाओ" से सम्बंधित एक प्रश्न। चुनाव आयोग एक 3 सदस्यीय निकाय है, और सभी चुनाव कार्यक्रमों का निर्णय लेता है। गृह मंत्रालय द्वारा अर्धसैनिक और सीएपीएफ सैनिकों (केंद्रीय सेना)"शासकीय प्रणाली एवं संस्थाओ" से सम्बंधित एक प्रश्न। चुनाव आयोग एक 3 सदस्यीय निकाय है, और सभी चुनाव कार्यक्रमों का निर्णय लेता है। गृह मंत्रालय द्वारा अर्धसैनिक और सीएपीएफ सैनिकों (केंद्रीय सेना) की व्यवस्था में सहायता की जाती है। इसलिए वाक्यांश 1 और 2 गलत हैं, जिससे विकल्प (ए), (बी), (सी) भी गलत होते है, इसलिए (डी) उत्तर है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (डी)
(संदर्भ लिंक: http://resources.bodhisaar.com/p/home.html और http://eci.nic.in/eci_main1/the_function.aspx#schedulingelec)


66. भारत में, यदि कछुए की एक जाति को वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 की अनुसूची I के अन्तर्गत संरक्षित घोषित किया गया हो, तो इसका निहितार्थ क्या है?

  1. इसे संरक्षण का वही स्तर प्राप्त है जैसा कि बाघ को।
  2. इसका अब वन्य क्षेत्रों में अस्तित्व समाप्त हो गया है, कुछ प्राणी बंदी संरक्षण के अन्तर्गत है; और अब इसके विलोपन को रोकना असंभव है।
  3. यह भारत के एक विशेष क्षेत्र में स्थानिक है।
  4. इस संदर्भ में उपर्युक्त (b) और (c) दोनों सही हैं।

उत्तर (ए) जैसे कि बाघ, भारतीय वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम 1972 के अनुसूची 1 में सूचीबद्ध प्रजाति है, इसका मतलब है कि कछुए की एक जाति यदि अनुसूची 1 के तहत संरक्षित घोषित की गई है, तो उसे भी संरक्षण का वही स्तर जैसे कि बाघ, भारतीय वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम 1972 के अनुसूची 1 में सूचीबद्ध प्रजाति है, इसका मतलब है कि कछुए की एक जाति यदि अनुसूची 1 के तहत संरक्षित घोषित की गई है, तो उसे भी संरक्षण का वही स्तर प्राप्त होगा जैसा की बाघ को। स्पष्ट कारणों के तहत विकल्प (बी) गलत है, (सी) वन्यजीव अधिनियम से संबंधित नहीं है और (डी) (बी) के सामान गलत है, इसलिए उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/legalreferences.html#post-page-number-2)


67. भारत में, न्यायिक पुनरीक्षण का अर्थ है

  1. विधियों और कार्यपालिक आदेशों की सांविधानिकता के विषय में प्राख्यापन करने का न्यायपालिका का अधिकार।
  2. विधानमण्डलों द्वारा निर्मित विधियों के प्रज्ञान को प्रश्नगत करने का न्यायपालिका का अधिकार।
  3. न्यायपालिका का, सभी विधायी अधिनियमनों के, राष्ट्रपति द्वारा उन पर सहन्यायपालिका का, समान या भिन्न वादों में पूर्व में दिए गए स्वयं के निर्णयों के पुनरीक्षण का अधिकार।
  4. न्यायपालिका का, समान या भिन्न वादों में पूर्व में दिए गए स्वयं के निर्णयों के पुनरीक्षण का अधिकार।

उत्तर (ए) "भारतीय राजतंत्र" और "संविधान और कानून" से एक और प्रश्न। भारतीय प्रणाली में "नियंत्रण और संतुलन" बनाए रखने में न्यायिक समीक्षा सबसे प्रबल तत्व है। इसके अंतर्गत न्यायपालिका को यह जांचने की संवैधानिक शक्ति प्रदान की गयी है कि, बनाये गये कानून या की गई कार्यकारी कार्रवाई, संवैधानिक सीमाओं के भीतर हैं या नहीं। विकल्प (बी) में सही शब्दों का उपयोग नहीं किया गया है। विकल्प (सी) बेतुका और तथ्यात्मक रूप से गलत है। विकल्प (डी) मुख्यतः इस प्रणाली से संबंधित नही है। इसलिए सही उत्तर है (ए)।

(संदर्भ लिंक: http://www.yourarticlelibrary.com/essay/judicial-review-in-india-concept-provisions-amendments-and-other-details/24911/)


68. भारतीय स्वतंत्रता संघर्ष के संबंध में, निम्नलिखित घटनाओं पर विचार कीजिए।

  1. रायल इंडियन नेवी में गदर
  2. भारत छोड़ो आंदोलन का प्रारंभ
  3. द्वितीय गोल मेज सम्मेलन

उपर्युक्त घटनाओं का सही कालानुक्रम क्या हे?

  1. 1-2-3
  2. 2-1-3
  3. 3-2-1
  4. 3-1-2

उत्तर (सी) "आधुनिक भारतीय इतिहास" से एक सरल प्रश्न। अगर आपको पता था कि भारत में ब्रिटिश राज के ताबूत में आरआईएन विद्रोह (वाक्यांश 1) अंतिम कील थी, तो आप जानते होंगे कि 3-2-1 उत्तर है, इसलिए विकल्प (सी)। अब, समस्या (ए) के क्रम के रूप में 1-2-3 है लेकिन हम मानते हैं कि "कालानुक्रमिक अनुक्रम" का मतलब होगा बढ़ते समय के घटनाक्रम, इसलिए उपयुक्त विकल्प है (सी)


69. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. पिछले दशक में भारत के जीडीपी के प्रतिशत के रूप में कर राजस्व में सतत वृद्धि हुई है।
  2. पिछले दशक में भारत के जीडीपी के प्रतिशत के रूप में राजकोशीय घाटे में सतत वृद्धि हुई है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "भारतीय अर्थव्यवस्था" से प्रत्यक्ष प्रश्न। पिछले एक दशक में भारत के कर राजस्व में सतत वृद्धि नहीं हुई है, अपितु यह कुछ वर्षों तक स्थिर रहा है या लक्ष्य से कम रहा है। यह हमारी शासकीय राजस्व प्रणाली का मुद्दा है, जिसके अंतर्गत जीएसटी का तत्काल क्रियान्वयन आदि इसके तहत उठाये गये कदम हैं। एफआरबीएम ढांचे के कारण 2003 के शुरूआत में राजकोषीय घाटे को अच्छी तरह प्रबंधित किया गया है (2007 में लागू जीएफसी के बाद इसमें कमी आयी है, लेकिन यह एक और पहलू है)। इसलिए, दोनों वाक्यांश 1 और 2 गलत हैं, सही उत्तर है (डी)
(संदर्भ लिंक: http://saar.bodhibooster.com/2017/02/India-tax-to-gdp-ratio-GST-direct-indirect-taxes.html और http://saar.bodhibooster.com/2017/02/India-tax-to-gdp-ratio-GST-direct-indirect-taxes.html)


70. हाल ही में, कुछ शेरों को गुजरात के उनके प्राकृतिक आवास से निम्नलिखित में से किस एक स्थल पर स्थानांतरित किए जाने का प्रस्ताव था?

  1. कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान
  2. कुनो पालपुर वन्यजीव अभयारण
  3. मुदुमलाई वन्यजीव अभयारण्य
  4. सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान

उत्तर (बी) "समसामयिक विषयों" से एक प्रत्यक्ष प्रश्न। भारतीय वन्यजीव संस्थान (देहरादून) नामक एक समूह ने प्रस्तावित किया था कि, 3 वर्ष से क्रियान्वयन हेतु लम्बित सर्वोच्च न्यायालय के आदेश अनुसार गुजरात से 40 शेरों को मध्य प्रदेश के कुनो पालपुर वन्यजीव अभ्यारण्य में स्थानांतरित किया जाए। सही उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: http://timesofindia.indiatimes.com/home/environment/flora-fauna/No-sign-of-Gir-transfer-MP-seeks-to-shift-zoo-lions-to-Kuno/articleshow/45379624.cms)


71. किसी राज्य में राष्ट्रपति शासन की उद्घोशणा के निम्नलिखित में से कौन-से परिणामों का होना आवश्यक नहीं है?

  1. राज्य विधान सभा का विघटन
  2. राज्य के मंत्रिपरिषद का हटाया जाना
  3. स्थानीय निकायों का विघटन

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (बी) "भारतीय राजतंत्र" से प्रत्यक्ष एक प्रश्न। जब एक राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होता है, तो मंत्रिपरिषद को तत्काल हटा दिया जाता है। लेकिन जब राष्ट्रपति शासन हटा दिया जाता है, तो विधानसभा फिर से एक सत्र के लिए संयोजित की सकती है। स्थानीय निकाय इस सब से अप्रभावित रहते हैं। इसलिए, 1 और 3 वाक्यांश सही हैं, और उत्तर विकल्प (बी) है


72. भारत के संविधान में शोषण के विरूद्ध अधिकार द्वारा निम्नलिखित में से कौन-से परिकल्पित हैं?

  1. मानव देह व्यापार और बंधुआ मज़दूरी (बेगारी) का निशेध
  2. अस्पृश्यता का उन्मूलन
  3. अल्पसंख्यकों के हितों की सुरक्षा
  4. कारखानों और खदानों में बच्चों के नियोजन का निषेध

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1, 2 और 4
  2. केवल 2, 3 और 4
  3. केवल 1 और 4
  4. 1, 2, 3 और 4

उत्तर (सी) "भारतीय राजतंत्र" से सीधे एक प्रश्न। यदि आप मूलभूत अधिकारों का अध्याय ठीक से पढ़ते हैं, तो आप निश्चित रूप से जानते होंगे कि अस्पृश्यता (अनुच्छेद 17 - समानता का अधिकार) और अल्पसंख्यक हितों (अनुच्छेद 29 - सांस्कृतिक और शैक्षणिक अधिकार) को अन्य मौलिक अधिकारों के अंतर्गत समाविष्ट किया गया है, न कि शोषण के विरुद्ध (अनुच्छेद 23 और 24 - जो मानव तस्करी और बाल श्रम को शामिल करता है) के अंतर्गत। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (सी)। (संदर्भ लिंक: http://indiacode.nic.in/coiweb/coifiles/p03.htm)


73. निम्नलिखित में से कौन-सा भौगोलिक रूप से ग्रेट निकोबार के सबसे निकट है?

  1. सुमात्रा
  2. बोर्नियो
  3. जावा
  4. श्रीलंका

उत्तर (ए) "भूगोल" से एक प्रत्यक्ष प्रश्न, जिस हेतु भौगोलिक नक्शे पर क्षेत्रों के सापेक्ष स्थापन का ज्ञान आवश्यक था (आप निश्चित रूप से "दूरी" नहीं याद रख सकते हैं, लेकिन क्षेत्र के सामान्य व्यापक स्थापन को याद रख सकते हैं)। ग्रेट निकोबार द्वीप अंडमान और निकोबार श्रृंखला में सबसे दक्षिणी द्वीप है, और इंडोनेशिया के सुमात्रा द्वीप के बगल में स्थित है। जावा उसके बाद आता है, और बोर्नियो उसके बहुत परे (उत्तर की और)। श्रीलंका बहुत दूर है! सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/geographyinputs.html)


74. निम्नलिखित कथनों में से उस एक को चुनिए, जो मंत्रिमण्डल स्वरूप की सरकार के अन्तर्निहित सिद्धांत को अभिव्यक्त करता हैः

  1. ऐसी सरकार के विरूद्ध आलोचना को कम-से-कम करने की व्यवस्था, जिसके उत्तरदायित्व जटिल हैं तथा उन्हें सभ के संतोश के लिए निष्पादित करना कठिन है।
  2. ऐसी सरकार के कामकाज में तेजी लाने की क्रियाविधि, जिसके उत्तरदायित्व दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं।
  3. सरकार के जनता के प्रति सामूहिक उत्तरदायित्व को सुनिश्चित करने के लिए संसदीय लोकतंत्र की एक क्रियाविधि।
  4. उस शासनाध्यक्ष के हाथों को मजबूत करने का एक साधन जिसका जनता पर नियंत्रण हृासोन्मुख दशा में है।

उत्तर (सी) आज भारत में जो हो रहा है, उसके सन्दर्भ में यह एक दिलचस्प सवाल है! विकल्प (ए) और (डी) वैसे नहीं हैं जैसे कि इनकी मूल अवधारणा थी! इसलिए, गलत है। विकल्प (बी) सही दिखता है, लेकिन तकनीकी विचार विकल्प (सी) में शामिल है। मंत्रिपरिषद की संपूर्ण परिषद (सरकार का मंत्रिमंडल स्वरुप) को इस्तीफा देना पड़ता है, अगर किसी भी सदस्य का लोकसभा में विधेयक मंजूर नहीं होता है। "मंत्रिमंडल" (सीओएम के एक भाग के रूप में) बनाम "मंत्रिपरिषद" के बीच उलझन न हो क्योंकि प्रश्नर में "सरकार का मंत्रिमण्डकल प्रारूप" जिसका अर्थ है "मंत्रिमण्डनल आधारित सरकार की हमारी मौजूदा प्रणाली के अंतर्गत सरकार का सामूहिक उत्त रदायित्वप"। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Union_Council_of_Ministers)


75. निम्नलिखित में से कौन-सी एक भारतीय संघराज्य पद्धति की विशेषता नहीं है?

  1. भारत में स्वतंत्र न्यायपालिका है।
  2. केंद्र और राज्यों के बीच शक्तियों का स्पष्ट विभाजन किया गया है।
  3. संघबद्ध होने वाली इकाइयों को राज्य सभा में असमान प्रतिनिधित्व दिया गया है।
  4. यह संघबद्ध होने वाली इकाइयों के बीच एक सहमति का परिणाम है।

उत्तर (डी) "भारतीय राजतंत्र" और "समसामयिक विषयों" से एक और प्रश्नर जिसमें स्पष्ट राजनीतिक स्वर है क्योंकि, वर्तमान राज्य सरकारों द्वारा केंद्र में सत्ता के विकेंद्रीकरण के खिलाफ आरोप आम हैं। यह स्पष्ट है कि भारतीय न्यायपालिका लगभग स्वतंत्र है। स्प ष्टे रूप से यह "संघवाद" का एक परिभाषित भाग नहीं है, बल्कि सिस्टम में "नियंत्रण और समानता" का है। हालांकि, चूंकि (डी) पूरी तरह गलत है (तथ्यात्मक रूप से) क्योंकि हमारे राज्य (संघनित इकाइयां) उस समय तक भी नहीं बन पाये थे जब संविधान और अर्ध-संघीय ढांचे का निर्माण हुआ था। यह 18वीं शताब्दी में संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था, यहां नहीं! इसलिए, (डी) गलत है। यही हमारा उत्तजर है। एक दिलचस्प अंतर्दृष्टि हमारी संविधान की पहली अनुसूची में विभिन्न राज्यों की परिभाषा से आती है।
(संदर्भ लिंक: http://www.lawmin.nic.in/coi/FIRST-SCHEDULE.pdf)


76. निम्नलिखित में से कौन-सा एक काकतीय राज्य में अतिमहत्वपूर्ण समुद्र पतन था?

  1. काकिनाडा
  2. मोटुपल्ली
  3. मछलीपटनम (मसुलीपटनम)
  4. नेल्लुरू

उत्तर (बी / सी) "प्राचीन इतिहास" से एक प्रश्न। दोनों विकल्प (बी) और (सी) सही लगते हैं, चूंकि एकाधिक स्रोत, पुराने और समकालीन के अध्यययन से यह स्पकष्ट( है कि उक्तऔ दोनों "ककातिया राज्य में एक अतिमहत्वपूर्ण समुद्र-पत्तयन" हैं। उत्तर अस्पष्ट है।
(संदर्भ लिंक - चर्कवर्ती 1991 https://en.wikipedia.org/wiki/Kakatiya_dynasty)


77. ‘भूमंडलीय जलवायु परिवर्तन संधि (ग्लोबल क्लाइमेट चेंज एलाएन्स)’ के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. यह यूरोपीय संघ की पहल है।
  2. यह लक्ष्याधीन विकासशील देशों को उनकी विकास नीतियों और बजटों में जलवायु परिवर्तन के एकीकरण हेतु तकनीकी एवं वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
  3. इसका समन्वय विश्व संसाधन संस्थान (डब्ल्युआरआई) और धारणीय विकास हेतु विश्व व्यापार परिषद् (डब्ल्युबीसीएसडी) द्वारा किया जाता है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (ए) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से एक प्रश्न। भूमंडलीय जलवायु परिवर्तन संधि (जीसीसीए) यूरोपीय संघ (ईयू) की एक पहल है, जो विकासशील देश (जो जलवायु परिवर्तन के लिए अतिसंवेदनशील है) के साथ जलवायु परिवर्तन पर बातचीत और सहयोग को मजबूत करने के लिए है, । इस पहल को 2007 में शुरू किया गया था और यूरोपीय आयोग (ईसी) द्वारा इसे समन्वित किया जाता है। 1 और 2 दोनों सही हैं, और उत्तर है (ए)। (संदर्भ लिंक: http://www.gcca.eu/about-the-gcca/what-is-the-gcca)


78. भारत के धार्मिक इतिहास के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. सौत्रान्तिमक और सम्मितीय जैन मत के संप्रदाय थे।
  2. सर्वास्तिवादियों की मान्यता थी कि दृग्विषय (फिनोमिना) के अवयव पूर्णतः क्षणिक नहीं है, अपितु अव्यक्त रूप से सदैव विद्यमान रहते हैं।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "धर्म" और "प्राचीन इतिहास" से एक प्रश्न। सौत्रांतिक एक शुरुआती बौद्ध शिक्षण संस्था थी, जो सामान्यतः स्थवीर निकाय से अवतीर्ण होकर उनके तत्कालीन संस्थान सर्वस्तिवाद से संबद्ध है। अत: वाक्यांश 1 गलत है। सर्वस्तिवाद बौद्ध धर्म का एक प्रारंभिक विद्यालय था, जो अतीत, वर्तमान और भविष्य में सभी धर्मों के अस्तित्व में यकीन रखता था, जो वाक्यांश 2 में मिलता है, इसलिए 2 सही है। तो हमारा उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Sarvastivada#Early_history and https://en.wikipedia.org/wiki/Sautrāntika)


79. भूमध्यसागर, निम्नलिखित में से किन देशों की सीमा है ?

  1. जाडर्न
  2. इराक
  3. लेबनान
  4. सीरिया

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1, 2 और 3
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 3 और 4
  4. केवल 1, 3 और 4

उत्तर (सी) "भूगोल" और "समसामयिक विषयों" से एक प्रश्न। भूमध्य सागर (पश्चिमी सभ्यता के सुगम आरंभ का हिस्सा और "भूमि के बीच का समुद्र") पूर्व में अटलांटिक महासागर से पश्चिम में एशिया तक फैला हुआ है और यूरोप से अफ्रीका को अलग करता है। यह लेबनान और सीरिया की सीमा निर्धारित करता है, लेकिन इराक एवं जॉर्डन की नहीं। पिछले कुछ वर्षों में ज्वलंत समसामयिक विषयों के संदर्भ में भूगोल से प्रश्न पूछे जा रहे हैं - और मध्य पूर्व और इराक / सीरिया, निश्चित रूप से उस के लिए योग्य हैं! उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/geographyinputs.html)


80. ‘राष्ट्रीय निवेश और अवसंरचना निधि’ के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. यह नीति NITI आयोग का एक अंग है।
  2. वर्तमान में इसकी कॉपर्स रू. 4,00,000 करोड़ है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (डी) "शासन" और "सरकारी योजनाएं" से संबंधित एक प्रश्न। वाक्यांश 2 गलत है क्योंकि इसमें लगभग 40,000 करोड़ रुपये संग्रहित है, न कि 4,00,000 करोड़। यह एक अच्छा अंतर था, वास्तव में बहुत बड़ा, और आपको इस आंकड़े को सावधानीपूर्वक पढ़ना चाहिए था। वाक्यांश 1 गलत है क्योंकि यह भारत सरकार द्वारा बनाई गई निधि है, और नीति आयोग इसके साथ कहीं भी संबंधित नहीं है। उत्तर है (डी)


81. सार्वभौम अवसंरचना सुविधा (ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर फैसिलिटी)

  1. एशिया में अवसंरचना के उन्नयन के लिए ASEAN का उपक्रमण है, जो एशियाई विकास बैंक द्वारा दिए गए साख (क्रेडिट) से वित्तपोषित है।
  2. गैर-सरकारी क्षेत्रक और संस्थागत निवेषकों की पूंजी का संग्रहण कर सकने के लिए विश्व बैंक का सहयोग है, जो जटिल अवसंरचना सरकारी गैर-सरकरी भागीदारियों (PPPs) की तैयारी और संरचना निर्माण को सुकर बनाता है।
  3. OECD के साथ कार्य करने वाले विश्व के प्रमुख बैंकों का सहयोग है, जो उन अवसंरचना परियोजनओं को विस्तारित करने पर केन्द्रित है जिनमें गैर सरकारी विनिवेश संग्रहीत करने की क्षमता है।
  4. UNCTAD द्वारा वित्तपोषित उपक्रमण है जो विश्व में अवसंरचना के विकास को वित्तपोषित करने और सुकर बनाने का प्रयास करता है।

उत्तर (बी) "अवसंरचना" से एक प्रश्न। सार्वभौम अवसंरचना सुविधा (जीआईएफ) एक वैश्विक, खुला मंच है जो कि जटिल अवसंरचना सरकारी-गैरसरकारी भागीदारियों‍ (पीपीपी) की तैयारी और संरचना निर्माण को सुगम बनाने तथा निजी क्षेत्र और संस्थागत पूंजी निवेशकों के संघटन को सुगम बनाता है। यह विश्व बैंक के सहयोग से स्थापित है। तो स्पष्ट रूप से सही उत्तर है (बी)।
(संदर्भ लिंक: http://www.globalinfrafacility.org/what-is-the-gif)


82. लोक सभा के निर्वाचन के लिए नामांकन पत्र

  1. भारत में निवास करने वाले किसी भी व्यक्ति द्वारा दाखिल किया जा सकता है।
  2. जिस निर्वाचन क्षेत्र में निर्वाचन लड़ा जाना है, वहां के किसी निवासी द्वारा दाखिल किया जा सकता है।
  3. भारत के किसी नागरिक द्वारा, जिसका नाम किसी निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता सूची में है, दाखिल किया जा सकता है।
  4. भारत के किसी भी नागरिक द्वारा दाखिल किया जा सकता है।

उत्तर (सी) "राजनीति" और "संविधान और कानून" से संबंधित एक और प्रश्न। विकल्प (ए) गलत है क्योंकि ‘एलियंस’ (विदेशी) भी हो सकते हैं। भारतीय संविधान का अनुच्छेद 84 (भाग 5-संघ) लोक सभा के सदस्य होने के लिए योग्यता निर्धारित करता है, जो हमें बताता है कि (ए) और (डी) गलत या अधूरे हैं। अब विकल्प (बी) की पूर्ति एक आवश्यक शर्त नहीं है, सबसे सही उत्तडर बचता है (सी)। "देश के किसी भी भाग में वो / उसका नाम चुनावी सूची में होना चाहिए।" चुनाव आयोग कहता है कि "प्रश्न 4. मैं दिल्ली में एक मतदाता के रूप में पंजीकृत हूं। क्या मैं हरियाणा या महाराष्ट्र या उड़ीसा से लोकसभा चुनाव लड़ सकता हूं? उत्तर है- हाँ। आरपी अधिनियम, 1951 की धारा 4 (सी), 4 (सीसी) और 4 (सीसीसी) के अनुसार यदि आप दिल्ली में एक पंजीकृत मतदाता हैं, तो आप लोकसभा के लिए असम, लक्षद्वीप और सिक्किम को छोड़कर देश में किसी भी क्षेत्र में चुनाव लड़ सकते हैं। उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/legalreferences.html#post-page-number-3)


83. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. भारत में, हिमालय केवल पांच राज्यों में फैला हुआ है।
  2. पश्चिमी घाट केवल पांच राज्यों में फैले हुए हैं।
  3. पुलिकट झील केवल दो राज्यों में फैली हुई है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 3
  3. केवल 2 और 3
  4. केवल 1 और 3

उत्तर (बी) "भौतिक भूगोल" से एक कठिन सवाल है, जो सरल लग रहा है। भारतीय हिमालय क्षेत्र (आईएचआर) भारत में हिमालय का भाग है जिसमें जम्मू-कश्मीर (41%), हिमाचल प्रदेश (10%), उत्तराखंड (10%), सिक्किम (1%), पश्चिम बंगाल हिल्स (0.5 9%), मेघालय (4%), असम पहाड़ियों (2.8%), त्रिपुरा (1.9%), मिजोरम (3.9 5%), मणिपुर (4.18%), नागालैंड (3%) और अरुणाचल प्रदेश (15.6%) शामिल है। इसलिए 1 गलत है। पश्चिमी घाट 6 राज्यों, गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में फैले हुए हैं। इसलिए 2 गलत है। दक्षिण भारत के कोरोमंडल तट पर, पुलिकट झील, चिलीका के बाद दूसरी सबसे बड़ी खारे पानी की झील है, और आंध्र प्रदेश (40%) और तमिलनाडु (60%) की सीमा पर फैली हुई है।
(संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/geographyinputs.html)


84. जैव आक्सीजन मांग (BOD) किसके लिए एक मानक मापदंड है?

  1. रक्त में आक्सीजन स्तर मापने के लिए
  2. वन पारिस्थितिक तंत्रों में आक्सीजन स्तरों के अभिकलन के लिए
  3. जलीय पारिस्थितिक तंत्रों में प्रदूषण के आमापन के लिए
  4. उच्च तुंगता क्षेत्रों में आक्सीजन स्तरों के आकलन के लिए

उत्तर (सी)  "पर्यावरण, पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से संबंधित एक सीधा और सरल प्रश्न। (सरल क्योंकि विकल्प आसानी से हट सकते हैं)। बीओडी (जैव ऑक्सीजन मांग) जलीय पारिस्थितिकी तंत्र (एरोबिक) में कार्बनिक पदार्थ का ऑक्सीकरण करने के लिए बैक्टीरिया और अन्य अवांछित प्रजातियों के लिए आवश्यक ऑक्सीजन के माप का पैमाना है, इसलिए यह जलीय पारिस्थितिकी तंत्र में प्रदूषण परख के लिए एक मानक मानदंड है। अधिक बीओडी का अर्थ है अधिक प्रदूषित जल स्रोत। उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: https://realtechwater.com/biochemical-oxygen-demand)


85. बेहतर नगरीय भविष्य की दिशा में कार्यरत संयुक्त राष्ट्र कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र पर्यावास (UN-Habitat) की भूमिका के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सत्य है/हैं?

  1. संयुक्त राष्ट्र महासभा के द्वारा संयुक्त राष्ट्र पर्यावास को आज्ञापित किया गया है कि वह सामाजिक एवं पर्यावरणीय दृष्टि से धारणीय ऐसे कस्बों और शहरों को संवर्धित करे जो सभी को पर्याप्त आश्रय प्रदान करते हों।
  2. इसके साझीदार सिर्फ सरकारें या स्थानीय नगर प्राधिकरण ही हैं।
  3. संयुक्त राष्ट्र पर्यावास, सुरक्षित पेय जल व आधारभूत स्वच्छता तक पहुंच बढ़ाने और गरीबी कम करने के लिए संयुक्त राष्ट्र व्यवस्था के समग्र उद्देश्य में योगदान करता है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. 1, 2 और 3
  2. केवल 1 और 3
  3. केवल 2 और 3
  4. केवल 1

उत्तर (बी) "अंतर्राष्ट्रीय संगठन" से संबंधित एक प्रश्न। संयुक्त राष्ट्र मानव पर्यावास कार्यक्रम (UN–Habitat) मानव बस्तियों और स्थायी शहरी विकास के लिए संयुक्त राष्ट्र एजेंसी है। पर्यावास एजेंडा के जुड़वा लक्ष्य हैं- सभी के लिए पर्याप्त आश्रय और शहरीकरण के दौर में स्थायी मानव बस्ती का विकास। UN–Habitat का आदेश-पत्र अन्य अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सम्मीत विकास लक्ष्यों से प्राप्त होता है, विशेष रूप से निरंतर विकास पर विश्व सम्मेलन के कार्यान्वयन की योजना के अंतर्गत जल और स्वच्छता के लक्ष्य, 2015 तक, ऐसे लोगों के लिए था, जिन्हेंऔ सुरक्षित पीने के पानी की उपलब्धषता और बुनियादी स्वच्छता की आवश्य कता थी। इसलिए 1 और 3 सही हैं। वाक्यां्श 2 गलत है क्योंकि इसमें किसी भी सरकार या स्थानीय शहरी अधिकारियों के साथ साझेदारी करने की कोई ऐसी बात नहीं कही गई है।
(संदर्भ लिंक : https://unhabitat.org/about-us/un-habitat-at-a-glance/)


86. ‘‘राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क (NSQF)’ के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. NSQF के अधीन, शिक्षार्थी सक्षमता का प्रमाणपत्र केवल औपचारिक शिक्षा के माध्यम से ही प्राप्त कर सकता है।
  2. NSQF के क्रियान्वयन का एक प्रत्याशित परिणाम व्यावसायिक और सामान्य शिक्षा के मध्य संचरण है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "शासकीय योजनाओं" से एक और प्रश्न। राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) एक योग्यता-आधारित फ्रेमवर्क है जिसमें ज्ञान, कौशल और योग्यता के स्तरों के आधार पर वर्गीकरण किया जाता है। एनएसक्यूएफ़ के तहत, शिक्षार्थी औपचारिक, अनौपचारिक रूप से या अनौपचारिक शिक्षा के माध्यम से किसी भी स्तर पर आवश्यक योग्यता के लिए प्रमाणीकरण प्राप्त कर सकता है। तो 1 गलत है ("केवल" का उपयोग)। एनएसक्यूएफ के साथ डिग्री के संरेखण द्वारा व्यावसायिक और सामान्य शिक्षा के बीच आसानी रहेगी। अत: स्पष्ट रूप से वाक्यांश 1 गलत है और 2 सही है। (संदर्भ लिंक : http://www.skilldevelopment.gov.in/nsqf.html)


87. भारतीय इतिहास के संदर्भ में, ‘‘द्वैध शासन (डायआर्की)’ सिद्धांत किसे निर्दिष्ट करता है?

  1. केन्द्रीय विधानमण्डल का दो सदनों में विभाजन।
  2. दो सरकारों, अर्थात केन्द्रीय और राज्य सरकारों का शुरू किया जाना।
  3. दो शासक-समुच्चय; एक लंदन में और दूसरा दिल्ली में होना।
  4. प्रान्तों को प्रत्यायोजित विषयों का दो प्रवर्गों में विभाजन।

उत्तर (डी) "भारतीय इतिहास" से एक अन्य प्रश्नt। द्वैध शासन, भारत सरकार के अधिनियम (1919) द्वारा ब्रिटिश भारत के प्रांतों के लिए पेश की गई दोहरे प्रवर्ग की सरकार की एक प्रणाली थी। इसे एडविन सैमुएल मॉन्टग्यू (भारत के राज्य सचिव, 1917-22) और लॉर्ड चेम्सफोर्ड (भारत के वायसराय, 1916-21) द्वारा संवैधानिक सुधार के रूप में पेश किया गया था। इस में, प्रशासन के कई व्योक्त्यिों को परिषदों और मंत्रियों के रूप में विभाजित किया गया था, और इन्हें1 क्रमशः आरक्षित और स्थानांतरित कहा गया। "द्वैध शासन" को "संघवाद" (एक विधायिका के दो सभागृह) या "द्विसदनीय" (केंद्र और राज्य सरकारों) के साथ भ्रमित न हों। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (डी)।
(संदर्भ लिंक : https://en.wikipedia.org/wiki/Government_of_India_Act,_1919)


88. ‘‘नेशनल करियर सर्विस’’ के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. नेशनल करियर सर्विस, कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग, भारत सरकार, का एक उपक्रमण है।
  2. नेशनल करियर सर्विस को देश के अशिक्षित युवाओं के लिए रोज़गार के अवसर के संवर्धन के लिए मिशन के रूप में प्रारंभ किया गया है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) कौशल विकास के आधार पर "सरकारी योजनाओं" से एक और प्रश्न । एनसीएस श्रम और रोजगार मंत्रालय की एक पहल है इसलिए वाक्यांश 1 गलत है। राष्ट्रीय आईसीटी आधारित पोर्टल मुख्य रूप से युवाओं हेतु उनकी आकांक्षाओं के साथ अवसरों को जोड़ने के लिए विकसित किया गया है। यह पोर्टल नौकरी चाहने वालों, नौकरी प्रदाताओं, कौशल प्रदाताओं, करियर सलाहकारों आदि के पंजीकरण की सुविधा प्रदान करता है। इसलिए वाक्यांरश 2 सही है (कौशल प्रदाताओं से अर्थ अनपढ़ युवा भी शामिल है)। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://www.ncs.gov.in/pages/about-us.aspx)


89. निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा हाल ही में समाचारों में आए ‘दबावयुक्त परिसम्पत्तियों के धारणीय संरचन पद्धति (स्कीम फार सस्टेनेबल स्ट्रक्चरिंग आफ स्ट्रेस्ड एसेट्स/ S4A)’ का सर्वोत्कृष्ट वर्णन करता है?

  1. यह सरकार द्वारा निरूपित विकासपरक योजनाओं की पारिस्थितिकीय कीमतों पर विचार करने की पद्धति है।
  2. यह वास्तविक कठिनाईयों का सामना कर रही बड़ी कार्पोरेट इकाइयों की वित्तीय संरचना के पुनर्संरचन के लिए भारतीय रिजर्व बैंक की स्कीम है।
  3. यह केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों के बारे में सरकार की विनिवेश योजना है।
  4. यह सरकार द्वारा हाल ही में क्रियान्वित ‘इंसाल्वेंसी ऐंड बैंकरप्ट्सी कोड’ का एक महत्वपूर्ण उपबंध है।

उत्तर (बी) "भारतीय अर्थव्यवस्था" से, एनपीए पर एक बहुप्रतीक्षित प्रश्न! भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के सामने एनपीए संकट ने पिछले कुछ सालों में लम्बी चौड़ी प्रस्तावित योजनाए देखी हैं। एसएसएसएसए (एस 4 ए) योजना, एनपीए संकट को अपने स्तंर पर हल करने की कोशिश के रूप में जून 2016 में आरबीआई द्वारा शुरू की गई योजना थी। वह ऐसा करने में विफल रहा, और आखिर में 2017 में बैंक दिवालियापन कानून की मदद लेने को मजबूर हैं। उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://www.rbi.org.in/scripts/BS_PressReleaseDisplay.aspx?prid=37210)


90. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः

  1. अल्पजीवी जलवायु प्रदूषकों को न्यूनीकृत करने हेतु जलवायु एवं स्वच्छ वायु गठबंधन (CCAC), G20 समूह के देशों की एक अनोखी पहल है।
  2. CCAC मीथेन, काला कार्बन एवं हाइड्रोफ्लुओरोकार्बनों पर केंद्रित करता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "पर्यावरण, पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" का एक सीधा और सरल प्रश्न। 16 फरवरी, 2012 को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) और छह देशों-बांग्लादेश, कनाडा, घाना, मैक्सिको, स्वीडन और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा अल्पकालिक जलवायु प्रदूषण को कम करने के लिए जलवायु और स्वच्छ वायु गठबंधन (सीसीएसी) शुरू किया गया था। इसलिए वाक्यांलश 1 गलत है। सीसीएसी मीथेन, काला कार्बन और हाइड्रोफ्लोरोकार्बन पर केंद्रित है। अत: 2 सही है। इसलिए उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Climate_and_Clean_Air_Coalition_to_Reduce_Short-Lived_Climate_Pollutants#Founding_Partners, and https://en.wikipedia.org/wiki/Climate_and_Clean_Air_Coalition_to_Reduce_Short-Lived_Climate_Pollutants)


91. भारतीय मानसून का पूर्वानुमान करते समय कभी-कभी समाचारों में उल्लिखित ‘इंडियन ओशन डाइपोल (IOD) के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. IOD परिघटना, उष्णकटिबंधीय पश्चिमी हिंद महासागर एवं उष्णकटिबंधीय पूर्वी प्रशांत महासागर के बीच सागर पृष्ठ तापमान के अंतर से विशेषित होती है।
  2. IOD परिघटना मानसून पर एल-नीनो के असर को प्रभावित कर सकती है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "भूगोल" से संबंधित एक प्रश्नी। हिंद महासागर डाइपोल (आईओडी), जिसे भारतीय नीनो के नाम से भी जाना जाता है, समुद्र की सतह के तापमान का एक अनियमित दोलन है जिसमें पश्चिमी हिंद महासागर एकांतर से गर्म हो जाता है और फिर महासागर के पूर्वी भाग की तुलना में ठंडा होता है। अत: वाक्यांश 1 गलत है। क्योंकि यहां "पूर्वी प्रशांत महासागर" शब्द का उपयोग हुआ है, जबकि यह पूर्वी हिंद महासागर है। तो शब्दों का एक खेल! भारत में मानसून आम तौर पर पूर्व में बंगाल की खाड़ी और पश्चिम में अरब सागर के बीच सागर-पृठ तापमान के अंतर से विशेषित होता है। अत: वाक्यांश 2 सही है। इसलिए, उत्तर है (बी)
(संदर्भ लिंक - https://en.wikipedia.org/wiki/Indian_Ocean_Dipole)


92. यदि आप घड़ियाल को उनके प्राकृतिक आवास में देखना चाहते हैं, तो निम्नलिखित में से किस स्थान पर जाना सबसे सही है?

  1. भितरकणिका मैनग्रोव
  2. चम्बल नदी
  3. पुलिकट झील
  4. दीपर बील

उत्तर (बी) "पर्यावरण पारिस्थितिकी और जलवायु परिवर्तन" से एक प्रश्न। एक बहुत सीधा प्रश्नल, तथ्यात्मक उत्तर है उत्तर (बी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Chambal_River)


93. हिंद महासागर नौसेनिक परिसंवाद (सिम्पोज़ियम) (IONS) के संबंध में निम्नलिखित पर विचार कीजिएः

  1. प्रारंभी (इनागुरल) IONS भारत में 2015 में भारतीय नौसेना की अध्यक्षता में हुआ था।
  2. IONS एक स्वैच्छिक पहल है जो हिंद महासागर क्षेत्र के समुद्रतटवर्ती देशों (स्टेट्स) की नौसेनाओं के बीच समुद्री सहयोग को बढ़ाना चाहता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2
  3. 1 और 2 दोनों
  4. न तो 1, न ही 2

उत्तर (बी) "रक्षा और सैन्य" से संबंधित एक प्रश्न। विशेष रूप से आईओआर में चीनी हमले के प्रकाश में। प्रारंभी आईओएनएस -2008 नई दिल्ली, भारत में 14 फरवरी, 2008 को हुआ था। अत: कथन 1 गलत है। 'हिंद महासागर नौसेनिक परिसंवाद' (आईओएनएस) एक स्वैच्छिक पहल है जो क्षेत्रीय प्रासंगिक समुद्री मुद्दों पर चर्चा के लिए एक खुले और समावेशी मंच प्रदान करके हिंद महासागर क्षेत्र के समुद्रतटवर्ती देशों की नौसेनाओं के बीच समुद्री सहयोग को बढ़ाने की कोशिश है। इसलिए वाक्यांश  2 सही है। इसलिए, सबसे सही उत्तार है (बी)
(संदर्भ लिंक: http://www.bodhibooster.com/p/special-groupings.html)


94. बोधिसत्व पद्मपाणि का चित्र सर्वाधिक प्रसिद्ध और प्रायः चित्रित चित्रकारी है, जो

  1. अजंता में है
  2. बदामी में है
  3. बाघ में है
  4. निम्नलिखित युग्मों पर विचार कीजिएः

उत्तर (ए) "प्राचीन भारतीय इतिहास" से एक तथ्यात्मक प्रश्न। अजंता गुफाओं (एक विश्व धरोहर स्थल) में बोधिसत्व पद्मपनी का प्रसिद्ध चित्र, पूर्व ऐतिहासिक युग के बचे हुए शेष बेहतरीन चित्रों में से एक है, जब बौद्ध धर्म अपने चरम पर था। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (ए)
(संदर्भ लिंक: https://commons.wikimedia.org/wiki/File:Bodhisattva_Padmapani,_Ajanta,_cave_1,_India.jpg)


95. निम्नलिखित युग्मों पर विचार कीजिएः

# परम्पराएँ समुदाय
1 चलिहा साहिब उत्सव सिंधियों का
2 नन्दा राज जात यात्रा गोंडों का
3 वारी-वारकरी संथालों का

ऊपर दिए गए युग्मों में से कौन-सा/से सही सुमेलित है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर (ए) "कला और संस्कृति" से एक वास्तविक प्रश्न। चलिहा, सिंधियों द्वारा मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण त्यौहार है जिसमें वे अपने भगवान, झूलेलाल से प्रार्थना करते हैं। इसलिए वक्तव्य 1 सही है। लेकिन वाक्यांश 2 और 3 तथ्यात्मक रूप से गलत हैं। तीन सप्ताह तक चलने वाले नंदा राज जात, उत्तराखंड में एक तीर्थस्थल और त्योहार है, न कि गोंडों का। और, महाराष्ट्र और उत्तरी कर्नाटक में वारकरी ("तीर्थस्थपल"), भक्ति परंपरा के अंतर्गत एक संप्रदाय (धार्मिक आंदोलन) है, (और संथालों का नहीं)। अत: 3 भी गलत है। इसलिए उत्तर है (ए)।


96. निम्नलिखित पद्धतियों में से कौन-सी कृषि में जल संरक्षण में सहायता कर सकती है/हैं?

  1. भूमि की कम या शून्य जुताई
  2. खेत में सिंचाई के पूर्व जिप्सम का प्रयोग
  3. फसल अवशेष को खेत में ही रहने देना

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "कृषि" से एक वास्तविक प्रश्न। बगैर जुताई की खेती (जिसे शून्य जुताई या प्रत्यक्ष ड्रिलिंग भी कहा जाता है) के माध्यम से मिट्टी को उथले बिना वर्ष दर वर्ष खेती या चरागाह का माध्युम है। बगैर जुताई की खेती एक कृषि तकनीक है, जिससे भूमि में पानी की मात्रा बढ़ती है। अत: कथन 1 सही है। जिप्सम का उपयोग कई वर्षों से मिट्टी के एकत्रीकरण में सुधार करने और सोदिक मिट्टी में फैलाव को रोकने के लिए किया जाता है क्योंकि इससे मिट्टी की संरचना में सुधार होता है। यह मिट्टी में पानी की सोखने की क्षमता में सुधार भी करता है। जिप्सम में सोडियम की अधिक मात्रा, फुलाव वाली मिट्टी एवं अधिक पानी के संयोजन के कारण, मिट्टी में पानी के निकासी की क्षमता में सुधार करता है जिससे पानी का जमाव नहीं होता है। जिप्सम अपवाह और क्षरण को कम करने में भी मदद करता है। अत: 2 भी सही है। कथन 3 सही है ही। इसलिए, सबसे अच्छा उत्तर है (डी).
(संदर्भ लिंक: http://www.croplife.com/crop-inputs/micronutrients/the-role-of-gypsum-in-agriculture-5-key-benefits-you-should-know)


97. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः


राष्ट्रव्यापी ‘मृदा स्वास्थ्य कार्ड स्कीम (साइल हेल्थ कार्ड स्कीम)’ का उद्देश्य है

  1. सिंचित कृषियोग्य क्षेत्र का विस्तार करना।
  2. मृदा गुणवत्ता के आधार पर किसानों को दिए जाने वाले ऋण की मात्रा के आकलन में बैंकों को समर्थ बनाना।
  3. कृषि भूमि में उर्वरकों के अति-उपयोग को रोकना।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

  1. केवल 1 और 2
  2. केवल 3
  3. केवल 2 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (बी) "सरकारी योजनाएं" और "कृषि" से संबंधित एक बढ़िया व तथ्यात्मक प्रश्न। मृदा स्वास्थ्थ्य कार्ड स्कीम का उददेश्य उर्वरकों के मृदा-परीक्षण-आधारित और संतुलित उपयोग को प्रोत्साहित करना है जिससे किसानों को कम लागत पर उच्च पैदावार प्राप्ता करने में सक्षम बनाया जा सके। अत: कथन 3 सही है। यह योजना 1 और 2 वाक्यांशों के बारे में नहीं बताती है। सर्वश्रेष्ठ उत्तर है (बी)। (संदर्भ लिंक: https://goo.gl/jfw5dn, FAQ Hindi - https://goo.gl/Lfu1X5)


98. निम्नलिखित युग्मों पर विचार कीजिएः

# सामान्यतः प्रयुक्त उपभुक्त पदार्थ उनमें पाए जाने वाले संभावित अवांछनीय अथवा विवादास्पद रसायन
1 लिपस्टिक सीसा
2 शीतल पेय ब्रोमीनित वनस्पति तेल
3 चाइनीज़ फास्ट फूड मोनोसोडियम ग्लूटामेट

ऊपर दिए गए युग्मों में से कौन-सा/से सही सुमेलित है/हैं?

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (डी) "समसामायिक विषयों" से एक वास्तविक प्रश्न। हाल के विवादास्पद मुद्दों से संबंधित! उत्तर है (डी)
(संदर्भ लिंक : http://www.safecosmetics.org/get-the-facts/regulations/us-laws/lead-in-lipstick,
https://en.wikipedia.org/wiki/Brominated_vegetable_oil)


99. कार्बनिक प्रकाश उत्सर्जी डायोड (आर्गेनिक लाइट एमिटिंग डायोड/ OLED) का उपयोग बहुत से साध्णनों में अंकीय प्रदर्श (डिजिटल डिस्प्ले) सर्जित करने के लिए किया जाता है। द्रव क्रिस्टल प्रदर्शों की तुलना में OLED प्रदर्श किस प्रकार लाभकारी है?

  1. OLED प्रदर्श नम्य प्लास्टिक अवस्तरों पर संविरचित किए जा सकते हैं।
  2. OLED के प्रयोग से, वस्त्र में अंतः स्थापित उपरिवेल्लनीय प्रदर्श (रोल्ड-अप डिस्प्ले) बनाए जा सकते हैं।
  3. OLED के प्रयोग से, पारदर्शी प्रदर्श संभव हैं।

नीचे दिए गए कूट का पय्रोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1 और 3
  2. केवल 2
  3. 1, 2 और 3
  4. उपर्युक्त कथनों में से कोई भी सही नहीं है

उत्तर (सी) "विज्ञान और प्रौद्योगिकी" से एक वास्तविक प्रश्न। ओएलईडी प्रदर्श को नम्य प्लास्टिक अवस्तरों (एफओएलईडी) का उपयोग कर निर्मित किया गया है। रोल अप डिस्प्ले में वस्त्र पहले से ही एम्बेड किया गया है। इसलिए वाक्यांिश 1 और 2 सही हैं, और संभावित उत्तर है (सी)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/OLED और https://en.wikipedia.org/wiki/Flexible_organic_light-emitting_diode )


100. निम्नलिखित में से कौन-सा/से सूर्य मंदिरों के लिए विख्यात है/हैं?

  1. अरसवल्ली
  2. अमरकंटक
  3. ओम्कारेश्वर

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः

  1. केवल 1
  2. केवल 2 और 3
  3. केवल 1 और 3
  4. 1, 2 और 3

उत्तर (ए) "प्राचीन भारतीय इतिहास" से एक वास्तविक प्रश्न। अरसवल्ली सूर्य मंदिर भारत के आंध्र प्रदेश के अरसवल्ली में 7 वीं शताब्दी का एक सूर्य मंदिर है। अमरकंटक और ओमकारेश्वर में कोई प्रमुख सूर्य मंदिर मौजूद नहीं है। इसलिए वाक्यांतश 2 और 3 गलत हैं। इसलिए, उत्तर है (ए)
(संदर्भ लिंक: https://en.wikipedia.org/wiki/Suryanarayana_Temple,_Arasavalli)










Questions and Detailed Solutions are being continuously updated ... refresh and check. Comment and let us know your experience, answers and solutions too!